Breaking News

आजमगढ़: प्रेशर हार्न का प्रयोग करने वाले बस चालकों के खिलाफ प्रयास संगठन ने एसपी यातायात को सौंपा ज्ञापन

आजमगढ़। रोडवेज परिसर के बाहर मुख्य मार्ग पर ही सरकारी बसों को बेतरतीब खड़ा कर मुख्य मार्ग के यातायात को बाधित करने और हाई प्रेशर हार्न का प्रयोग करने वाले निगम के बस चालकों के खिलाफ अविलम्ब कार्यवाही किए जाने को लेकर सामाजिक संगठन प्रयास ने बुधवार को आवाज उठाते हुए एसपी यातायात को शिकायती पत्र सौंपा। यातायात नियमों का माखौल उडाने वाले के खिलाफ कड़ी कार्यवाही किए जाने की मांग किया।
एसपी को सौंपे गए ज्ञापन में प्रयास अध्यक्ष रणजीत सिंह ने कहाकि आजमगढ़ शहर में उप्र राज्य सड़क परिवहन निगम की बसें अपने परिसर में चिन्हित स्थानों पर खड़ी न होकर रोडवेज परिसर के बाहर मुख्य मार्ग/चौराहे पर घंटों खड़ी रहती है और सवारियों को उतारती और चढ़ाती है जिससे आवागमन हर आंधे घंटे पर अवरूद्ध हो जाता है जाम की स्थिति बनी रहती है। इस जाम के कारण विद्यालय, आफिस व अस्पताल जाने वाले वाहनो को काफी असुविधा का सामना करना पड़ता है और मरीजों को विलम्ब होता है। इतना हीं नहीं, सड़कों पर जाम लगाने के बाद अनुबंधित बस चालकों द्वारा अपने बसों  में शासन के नियम विरूद्ध हाई प्रेशर हार्न लगाकर जाम में लगातार हार्न का प्रयोग किया जाता है। चालकों के मनबढ़ई से जहां ध्वनि प्रदूषण होता है वहीं जाम में फंसे लोग और स्थानीय लोगों के आस-पास रह रहे बुजुर्गो के स्वास्थ्य पर विपरीत प्रभाव पड़ रहा है। जिससे तत्काल निजात दिलाया जाए।
जिला उपाध्यक्ष शिवप्रसाद पाठक ने कहाकि रोडवेज के बस चालक व कंडक्टरों की मनमानी से निजात नहीं दिलाया गया तो संस्था के साथी इन चालकों को गुलाब का फूल देकर गांधीगिरी करेंगे और इसके बावजूद अगर यह नहीं माने तो एआरएम कार्यालय के बाहर सांकेतिक प्रदर्शन किया जाएगा।
वहीं सचिव इजीं सुनील यादव व डीएन सिंह ने कहाकि शहर में अनवरत बड़े पैमाने पर पार्किंग के लिए चलान काटे जा रहे हैं परन्तु नियम विरूद्ध सड़को पर खड़ी रोडवेज की बसों के विरूद्ध कोई कार्यवाही नहीं की गई। जबकि यातायात प्रशासन द्वारा प्रतिवर्ष यातायात जागरूकता सप्ताह/पखवारा/माह यातायात से सम्बंधित सुरक्षा व जागरुकता के उद्देश्य से मनाया जाता है परन्तु परिवहन बस चालक व कण्डक्टर पर इसका कोई प्रभाव नहीं है और परिवहन अधिकारियों के उदासीनता के कारण रोडवेज बसों के चालकों की मनमानी बदस्तूर जारी है। ऐसे चालकों और परिचालकों को भी जागरूक किया जाए ताकि वह समाज के बीच अपनी निगम की छवि को सुधार सकें।
इस अवसर पर राजीव शर्मा, डा हरिगोविन्द विश्वकर्मा, हरिश्चन्द, किशन कुमार, अमितलता सिंह, नितिन सिंह चौहान आदि मौजूद रहे।

0Shares

Leave a Reply

Your email address will not be published.