पेट्रो पदार्थों में मूल्य वृद्धि व जंगलराज के खिलाफ कांग्रेसियों का प्रदर्शन

तांगे में जुलूस निकाल मूल्य वृद्धि का उड़ाया उपहास
नारेबाजी के बीच राष्ट्रपति के नाम भेजा ज्ञापन
तांगे पर प्रदर्शन करते कांग्रेसी।
फतेहपुर। जिला कांग्रेस कमेटी के बैनर तले जिले भर के कांग्रेसियों ने प्रदेश सरकार द्वारा वैट की दर बढ़ाकर डीजल-पेट्रोल की कीमतों में बढ़ोत्तरी किये जाने तथा प्रदेश की बद से बदतर कानून व्यवस्था के विरोध में गुरूवार को तांगे में जुलूस निकालकर केन्द्र व प्रदेश सरकार का उपहास उड़ाते हुए राष्ट्रपति को सम्बोधित ज्ञापन अपर जिलाधिकारी के माध्यम से भेजा। कांग्रेसियों ने मांग की है कि कानून व्यवस्था में सुधार के साथ-साथ पेट्रो पदार्थों में की गयी वृद्धि को तत्काल वापस लिया जाये। अन्यथा कांग्रेसजन आन्दोलन को और तेज करेंगे। ज्ञापन देने से पूर्व कांग्रेसियों ने कलेक्ट्रेट पर केन्द्र व प्रदेश सरकार के खिलाफ जमकर नारेबाजी की। उधर जिलाध्यक्ष अखिलेश पाण्डेय ने पूर्व केन्द्रीय मंत्री पी0 चिदम्बरम की गिरफ्तारी को बदले की भावना से की गयी कार्रवाई बताया। कांग्रेसियों ने कहा कि अदालत से न्याय मिलने की आशा है।
पूर्व निर्धारित कार्यक्रम के मुताबिक जिलाध्यक्ष अखिलेश पाण्डेय के नेतृत्व में जिले भर के कांग्रेसियों ने बुलेट चौराहा स्थित पार्टी कार्यालय से तांगा जुलूस निकाला और कीमतों में वृद्धि व कानून व्यवस्था की चरमरायी स्थिति के खिलाफ नारेबाजी करते हुए कलेक्ट्रेट पहुंचे। जहां पर कांग्रेसियों ने मोदी व योगी सरकार को कोसते हुए राष्ट्रपति को सम्बोधित ज्ञापन अपर जिलाधिकारी को सौंपा। राष्ट्रपति को भेजे गये ज्ञापन में केन्द्र व प्रदेश सरकार के कुशासन से पैदा हुयी गम्भीर समस्याओं की ओर ध्यान आकृष्ट कराया गया है। वक्ताओं ने कहा कि भाजपा सरकारों के कार्यकाल में देश व प्रदेश में व्यवसाय खत्म होते जा रहे हैं। नौकरियां समाप्त कर दी गयी हैं। महंगाई आसमान छू रही है। जिसके चलते आम लोगों की कमर टूट चुकी है। वक्ताओं ने कहा कि इन झंझावटों से प्रदेशवासी अभी बेहाल ही थे कि प्रदेश की योगी सरकार ने वैट की दरें बढ़ाकर डीजल व पेट्रोल के दामों में भारी वृद्धि करके आम लोगों की कमर तोड़ने का काम किया है। पेट्रोल व डीजल में की गयी मूल्य वृद्धि से सर्वाधिक थका व हारा किसान ही प्रभावित होगा। वक्ताओं ने यह भी कहा कि दुनिया के कई मुल्कों में तेल की कीमतों में भारी कमी के बावजूद भारत में यह वृद्धि केन्द्र व प्रदेश सरकार की जनमानस के प्रति असंवेदनशीलता का उदाहरण है। वक्ताओं ने कहा कि प्रदेश में जंगलराज है। थानों व सरकारी दफ्तरों पर भाजपा के गुण्डों का कब्जा हो गया है। जिसके चलते कानून व्यवस्था चरमरा गयी है। जिसका जीता जागता उदाहरण मुख्यालय के जाने माने व्यवसायी अजय पुरवार का एक सप्ताह से लापता होना है। जिसकी अब तक योगी की पुलिस खोज नहीं कर सकी है। इस मौके पर पूर्व चेयरमैन अजय अवस्थी, वरिष्ठ अधिवक्ता सुधाकर अवस्थी, डा0 अमित मिश्रा नीटू, ओम प्रकाश गिहार, संतोष कुमारी शुक्ला, उदित अवस्थी, महेन्द्र कृष्ण श्रीवास्तव, एसपी शुक्ला, शिवाकांत तिवारी, राजन तिवारी, वीरेन्द्र सिंह चौहान, बच्चा बाजपेयी, मोहसिन खान, हेमलता पटेल, बबलू कालिया, शैलेन्द्र सिंह सहित तमाम कांग्रेसी मौजूद रहे।

0Shares
Total Page Visits: 715 - Today Page Visits: 1

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *