तो क्या खोखले हैं हैं योगी सरकार के दावे

क्या साहब ? यही है उत्तर प्रदेश की गड्ढामुक्त उत्तम सड़के कुशीनगर के जनप्रतिनिधि करें विचार
मो एहतशाम जाफ़र
          रिपोर्ट
सी आई बी इंडिया न्यूज
 जनपद  कुशीनगर
कुशीनगर,उप्र।कहना और लिखना मुनासिब भी माना जाएगा इसलिए कि खिरकिया स्थान से जटहा बाजार की यह प्रमुख सड़क इस प्रकार सुरसा के भारती मुंह फैलाए खड़ी है कि लोग इस सड़क से भयभीत होकर दूसरे सड़क मार्ग की तलाश करना शुरू कर दिया है। इस मार्ग के यात्रियों का मानना है कि इस सड़क से यात्रा करना जान जोखिम में डालने के समान है। सड़क में बेतरतीब विकृत गड्ढे व ऐसे टूट कर बिखरे पड़े रोड़े हैं कि कब कहां किस गड्ढे में गाड़ी गिर जाए यह नहीं बताया जा सकता है।जब कि आएदिन यात्री गिरपड़ कर दुर्घटना में घायल हो रहे है।
जबकि जनपद कुशीनगर की जनता ने अपने सांसद के साथ कद्दावर मंत्री को भी चुना है जिनकी उम्मीदों पर विकास की पहिया  चलने का भरोसा है। ऐसे में सत्ता के गलियारों में इस तरह की टूटी-फूटी सड़को की खबरें चर्चा का विषय बना हुआ है।बताते चलें कि बिहार बॉर्डर को जोड़ने वाली प्रमुख मार्ग जटहा बाजार टू पडरौना के खिरकिया स्थान तक करीब 15 किलोमीटर की सड़क के आजू-बाजू बसे सैकड़ो गांव के लोग हो या बिहार से यूपी में गमना गमन करने वाले यात्रियों के लिए एक सासत भरी जिंदगी इस मार्ग पर बनी हुई है।
यह नहीं है कि यह सड़क बीते बरसात में टूटी है बल्कि बीते एक सालों से इस सड़क की हालत दयनीय बनी हुई है इस सड़क पर चलने वाले बस बाइक ट्रैक्टर साइकिल सबकी हालत बुरी बनी हुई है।खिरकिया से लेकर जटहा बाजार के सैकड़ो गांव सहित हजारों यात्री इस मार्ग से आवागमन करते हैं ! इनका कहना है कि पिछड़े क्षेत्रों की सड़कों की क्या हाल है इससे देखने पर यही साबित हो रहा है कि पिछले क्षेत्र की विकास की पहिया से जनप्रतिनिधि अपना मुख मोड़ लिया है।लोगों ने कुशीनगर के सांसद और मंत्री से पुरजोर मांग किया है कि जटहा पडरौना पीडब्ल्यूडी सड़क मार्ग को चौड़ीकरण कराते हुए सड़क की दशा को सुधार कराने की जोरदार मांग उठने लगी है।
Attachments area
0Shares
Total Page Visits: 1205 - Today Page Visits: 2

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *