क्या हो रहा है योगी आदित्यनाथ के आदेशों का पालन

उत्तर प्रदेश सरकार के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ कुछ दिन पूर्व जब पूरे प्रदेश के अधिकारियों के साथ बैठक ले रहे थे तब उन्होंने सख्त निर्देश दिया था अधिकारी अपने कार्यालयों में जनता की समस्या को सुनने के लिए 9:00 बजे से लेकर 10:00 बजे तक बैठेंगे मुख्यमंत्री के इस दिए आदेश का जनपद गाजीपुर में कितना पालन किया जा रहा है इसका रिजल्ट चेक करने के लिए आज हम पहुंचे विकास भवन जहां से पूरे जनपद के विकास का कार्यक्रम करीब 30 से 40 विभागों के माध्यम से चलाया जाता है सुबह 9:15 पर पहुंचे तब यहां के विभागीय अधिकारियों के कार्यालयों है ताला लटका हुआ नजर आया तो कुछ सफाई करने कार्यालयों को साफ करते हुए दिखाई दिए मुख्यमंत्री के निर्देश के बाद कुछ फरियाद ही नहीं अधिकारियों का इंतजार करते हुए दिखाई दिए इस दौरान हम जिला विकलांग कल्याण अधिकारी, समाज कल्याण, जिला पंचायत राज विभाग, बाल विकास एवं पुष्टाहार विभाग, नेडा, जिला विकास अधिकारी, मुख्य विकास अधिकारी सहित दर्जनों विभागों के अधिकारियों और उनके कार्यालयों का रियलिटी चेक किया लेकिन हमें कोई भी अधिकारी और कर्मचारी नजर नहीं आया इस दौरान कुछ सफाई कर्मी जरूर मिले और वह लोग अपने कार्यों को अंजाम दे रहे थे उन लोगों ने भी बताया यह दिन के करीब 9:30 बज रहे हैं लेकिन अभी तक कोई भी अधिकारी नहीं आया है इस बात का रियलिटी चेक करते हुए हम मुख्य विकास अधिकारी कार्यालय के चेंबर में पहुंचे जहां पर उनके कार्यालय हैं सफाई कर्मी उनका टेबल साफ कर रहा था जब उनसे पूछा गया तो उसने बताया कि दिन के 9:30 बज रहे हैं लेकिन अभी तक साहब का पता नहीं है इसी दौरान मुख्य विकास अधिकारी कार्यालय में तैनात कर्मचारी गुलाब यादव पहुंचा और रिजल्ट चेक करने का मुख्यमंत्री का आदेश माना और बताया कि हम लोगों को कोई ऐसा आदेश नहीं है इस दौरान उसने मीडिया कर्मियों का वीडियो बनाकर मुख्यमंत्री को भेजने की धमकी भी दिया लेकिन जब कुछ ही देर बाद उसे लगा कि वह गलत कर रहा है तब उसने कैमरे पे हाथ मारते हुए कार्यालय से बाहर निकलकर जाने लगा लेकिन सवाल यह उठता है कि जब मुख्यमंत्री आदेशों का पालन अधिकारी नहीं कर रहे हैं तो उनके मातहत कर्मचारी कैसे करेंगे और अपने अधिकारियों को फंस ना जाए वह अब किसी भी स्तर पर उतर जाने को तैयार हो गए हैंl

0Shares
Total Page Visits: 2714 - Today Page Visits: 3

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *