औद्योगिक क्षेत्र मलवां के फैक्ट्री मालिकों ने मांगी बिजली

मुख्यमंत्री सहित उच्चाधिकारियों से शिकायत के बाद भी स्थिति में सुधार नहीं
 कलेक्ट्रेट पर प्रदर्शन करते फैक्ट्री मालिक
फतेहपुर। इंडियन इंडस्ट्रीज एसोसिएशन के बैनर तले औद्योगिक क्षेत्र मलवां में स्थित औद्योगिक इकाईयों में वर्षों से व्याप्त बिजली समस्या से आक्रोशित फैक्ट्री मालिकों का आक्रोश सातवें आसमान पर पहुंच गया है। फैक्ट्री एरिया से पैदल चलकर बिजली समस्या दूर किये जाने की मांग को लेकर कलेक्ट्रेट पर प्रदर्शन किया। तत्पश्चात जिलाधिकारी को सम्बोधित मांग पत्र सौंपकर दस दिनों के भीतर समस्या का निराकरण कराये जाने की समय सीमा निर्धारित की। निराकरण न होने पर आमरण अनशन की धमकी भी दी है।
एसोसिएशन के बैनर तले औद्योगिक इकाईयों के मालिकानों ने सोमवार को कलेक्ट्रेट पर प्रदर्शन करते हुए जिलाधिकारी को सौंपे गये ज्ञापन में बताया कि 1980 के दशक में सभी इकाईयां स्थापित की गयी थी। तब से अनेक इकाईयां सुचारू रूप से काम करती रही हैं। लेकिन कुछ वर्षों से इकाईयों को बिजली से सम्बन्धित अनेक समस्याओं का सामना करना पड़ रहा है। जैसे दिन में कई बार ट्रिपिंग की समस्या, वोल्टेज की दिक्कत, फाल्ट होने पर 36 घण्टों तक बिजली बाधित रखना शामिल है। यह भी बताया कि विद्युत समस्या के कारण अब सिर्फ 20-22 इकाईयां ही कार्यरत हैं। बताया गया कि औद्योगिक क्षेत्र में इकाईयों के लिए एक डेडिकेटेड फीडर दिया गया है लेकिन इस फीडर से चार ग्रामीण फीडर जोड़ दिये गये हैं। एक फीडर से कई गांवों को कनेक्शन दिया गया है। जिसके चलते औद्योगिक इकाईयों को डेडिकेटेड फीडर का लाभ नहीं मिल रहा है। बिना सुचारू बिजली के उद्योग चला पाना मुश्किल है। यह भी इंगित किया गया कि उत्तर प्रदेश औद्योगिक निवेश एवं रोजगार प्रोत्साहन नीति 2017 के बिन्दु 3-10 में स्पष्ट रूप से वर्णित है कि सभी औद्योगिक क्षेत्र में डेडिकेटेड फीडर देकर सुचारू रूप से बिजली दी जायेगी लेकिन विद्युत विभाग इस नीति का पालन नहीं कर रहा है। यह भी बताया गया कि इस समस्या के समाधान के लिए एसोसिएशन पिछले 18 माह से लगातार जिला उद्योग बंधु में अपनी समस्या प्रस्तुत कर रहा है। जिसमें हमेशा आश्वासन दिया जाता रहा है लेकिन समाधान अब तक नहीं किया गया है। इस मौके पर एसोसिएशन के संयोजक सतेन्द्र सिंह, नरेश सचान, फारूक, कमलाकांत, मांगीलाल, जमीर अहमद, चन्द्रमौर्य द्विवेदी, दीपक मण्डल, नरेन्द्र सिंह आदि शामिल रहे।

0Shares
Total Page Visits: 1072 - Today Page Visits: 1

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *