26 फरवरी से यज्ञ कार्यक्रम की होगी शुरूआत

आचार्यकुलम् की बैठक में लिया गया निर्णय
 बैठक करते आचार्यकुलम के पदाधिकारी 
फतेहपुर। आचार्यकुलम् की बैठक में यज्ञ तैयारियों को लेकर चर्चा की गयी। अपरिहार्य कारणों के चलते यज्ञ की तिथियों में परिवर्तन कर दिया गया है। अब 26 फरवरी से यज्ञ कार्यक्रमों की शुरूआत होगी।
रविवार को आचार्यकुलम् की बैठक मोटेश्वर महादेव मंदिर में संस्थापक/आचार्य विनोद शुक्ला की अध्यक्षता में आयोजित हुयी। बैठक में मुख्य अतिथि के रूप में जिला बार एसोसिएशन के अध्यक्ष सुशील मिश्रा ने शिरकत की। बैठक में यज्ञ की तैयारियों को लेकर चर्चा की गयी। अपरिहार्य कारणों से तिथि में संशोधन करते हुए कार्यक्रम की रूपरेखा बनायी गयी। कार्यक्रम का प्रारंम्भ 26 फरवरी से होगा। 26 को कलश यात्रा, मण्डप प्रवेश, समस्त देवी-देवताओं का आवाहन पूजन तथा अग्नि स्थापन, 26 फरवरी से प्रतिदिन दो बजे से पांच बजे तक देवी भागवत कथा होगी एवं प्रातः आठ बजे से ग्यारह बजे तक दुर्गा सप्तशती का पाठ तथा दो बजे से शाम पांच बजे तक दुर्गा सप्तशती का पाठ एवं पांच बजे से सात बजे तक हवन, आरती एवं प्रसाद वितरण, 6 मार्च को उपनयन संस्कार, 7 मार्च को भण्डारा होगा। बैठक का संचालन आचार्य रमानाथ द्विवेदी ने किया। इस मौके पर शिव प्रसाद त्रिपाठी, अमित तिवारी, चन्द्र शुक्ला, प्रदीप तिवारी, श्रीकांत त्रिपाठी, आचार्य विमलाकांत, आचार्य रवीशंकर मिश्र, आचार्य पंकज पाण्डेय, पं0 भगवती त्रिपाठी, शुभम सिंह आदि मौजूद रहे। सभी कार्यक्रम मोटेश्वर मंदिर मे ही सम्पन्न होंगे।

0Shares
Total Page Visits: 510 - Today Page Visits: 1

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *