10 मुस्लिमों का एक दल भगवान राम के बाल रूप की सजी सजाई प्रतिमा….

10 मुस्लिमों का एक दल भगवान राम के बाल रूप की सजी सजाई प्रतिमा
 भले ही अयोध्या में राम मंदिर निर्माण को लेकर कोई हलचल ना हो लेकिन सुप्रीम कोर्ट द्वारा सप्ताह में 5 दिन सुनवाई शुरू करने के फैसले के बाद से लोगों में दशकों पुराने इस विवाद के हल होने की आस बढ़ गई है यही कारण है कि बुधवार की दोपहर लगभग 10 मुस्लिमों का एक दल भगवान राम के बाल रूप की सजी सजाई प्रतिमा लिए हुए तपस्वी छावनी के महंत परमहंस के पास पहुंचे और उनसे राम मंदिर निर्माण होने पर उक्त राम के बाल रूपी प्रतिमा को उसमें प्राण प्रतिष्ठित करने की इच्छा जताई इसके बाद उसकी आरती उतारी गई पूजा की गई और उसे भविष्य के राम मंदिर में प्राण प्रतिष्ठित करने के लिए सुरक्षित रख लिया गया।आपको बता दें कि हाल ही में दर्जनों की संख्या में मुस्लिम समुदाय के लोगों ने राम मंदिर निर्माण कार्यशाला जाकर तराशे गए पत्थरों की सफाई की थी ,इस तरह की गतिविधियां यह साबित करती है कि भले ही अयोध्या में राम मंदिर निर्माण को लेकर प्रत्यक्ष में कोई हलचल ना दिखाई देती हो लेकिन भीतर ही भीतर सुगबुगाहट तेज है और क्या हिंदू क्या मुस्लिम सभी लंबे समय से चले आ रहे विवाद का अब अंत चाहते हैं।
0Shares
Total Page Visits: 1201 - Today Page Visits: 1

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *