होम क्वारंटीन के निर्देश के साथ प्रवासी श्रमिकों को दी राशन किट

 बसों के जरिए क्वारंटीन सेंटर में प्रवासी श्रमिकों का आना जारी
 प्रवासी श्रमिकों को राशन किट देते नायब तहसीलदार
फतेहपुर। लॉकडाउन के कारण काम धंधे बन्द होने से गैर प्रान्तों में मजदूरी के लिये गये प्रवासी श्रमिक लगतार का वापस आ रहे है। कोरोना संक्रमण को देखते हुए महानगरो से वापस आने वाले श्रमिकों को प्रशासन द्वारा सीधे घर न भेजने की व्यवस्था की गयी है। गैर प्रान्तों से आये हुए मजदूरों को अलग-अलग जनपदों से लाकर शहर में बनाये गये क्वारन्टीन सेंटर एमजी कालेज व एएस इंटर कालेज में रोडवेज बसों द्वारा प्रवासी मजदूरों को लाया जा रहा है। शुक्रवार को एमजी कालेज स्थित स्क्रीनिंग सेंटर में 8 बसों के जरिए गुजरात, महाराष्ट्र, हरियाणा, दिल्ली आदि राज्यो के 190 श्रमिक पहुंचे। जिसमे सदर 139, बिंदकी तहसील 22, खागा तहसील 29, जबकि एएस कालेज में महानगरो से 11 बसों के जरिए 134 लोगो को लाया गया। जिसमे सदर 64, बिंदकी 42, खागा तहसील के 28 लोग शामिल रहे। दोनों केंद्रों में नायब तहसीलदार डॉ सन्तराज सिंह की अगुवाई में श्रमिको का चिकित्सकों द्वारा स्वास्थ विभाग की टीम डॉ प्रमोद सिंह व डॉ पीके सिंह द्वारा स्वास्थ्य परीक्षण किया गया। सदर तहसील के निवासी श्रमिकों को नायब तहसीलदार डॉ सन्तराज सिंह द्वारा कोरोना महामारी से बचने के उपाय एवं तरीकों के बाबत जानकारी देने के साथ ही उन्हें राशन किट, मास्क व सेनेटाइजर आदि देकर होम क्वारंटीन में रहने के निर्देश के साथ रवाना किया गया। इस दौरान श्रमिको को 21 दिनों तक परिवार से अलग रहने व नियमित स्वास्थ कर्मियों की निगरानी टीम के सम्पर्क में रहने के लिये नोटिस व चिकित्सको द्वारा स्वास्थ प्रमाण पत्र भी दिया गया। जबकि अन्य तहसीलों के निवासी श्रमिकों का स्वास्थ्य परीक्षण करने के उपरांत उनके तहसील क्षेत्र में बनाये गए केंद्रों के लिये भेज दिया गया।

0Shares
Total Page Visits: 907 - Today Page Visits: 1

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *