सैय्यद जलालुद्दीन र0अ0 के सालाना उर्स में अकीदतमंदों की उमड़ी भीड़

नौंवे उर्स मुबारक पर देश विदेश से पहुंचे जायरीन, गुलपोशी के साथ दरूदो सलाम का नजराना किया पेश

फतेहपुर। सैय्यद जलालुद्दीन रहमतुल्लाह अलैह के नौंवा उर्स मुबारक ईदगाह स्थित नई बस्ती में खानकाहे आलिया में धूमधाम से मनाया गया। जिसमें दूर दराज से आये हुए अकीदतमंदों द्वारा गुलपोशी करने के साथ दरूदो सलाम के बीच फातेहाख्वानी की गयी। अकीदतमंदों के लिये लंगर का भी आयोजन किया गया। जिसमे आये हुए अकीदतमंद शामिल हुए।

बताते चले कि शेख अब्दुल कादिर जिलानी रहमतुल्लाह अलैह बड़े पीर की निस्बत से साबिर पिया व दादा तेग अली शिरकाई शरीफ हस्वा से ताल्लुक रखने वाले हजरत सैयद जलालुद्दीन रहमतुल्लाह अलैहे के नौंवे उर्स मुबारक का आयोजन रौज-ए-खानकाहे आलिया में हरवर्ष की तरह आयोजित किया जाता है। जिसमें बड़ी संख्या में देश-विदेश से अकीदतमंद शिरकत करते है। वार्षिक उर्स के अवसर पर मीलाद-ए-मुस्तफा (सल्ल) व मीलाद-ए-हम्द बारी तआला का नमाज-ए-जोहर किया गया। तत्पश्चात लंगर का आयोजन हुआ। उर्स में शामिल होने आये अकीदतमन्द पुरुष, महिलाओं के साथ साथ बच्चों ने भी लंगर ग्रहण किया। लंगर के पश्चात कुल शरीफ व फातेहा का आयोजन किया गया। साथ ही मुल्क की तरक्की, एकता, अखंडता, आपसी भाईचारा व सदभाव बनाये रखने की दुआये की गयी। मुवल्ली मो. अफजाल साबरी खान, हाशिम साबरी, शब्बीर वारसी ने बताया कि हजरत सैयद जलालुद्दीन रहमतुल्लाह अलैह का सालाना उर्स मुबारक हर वर्ष की तरह धूमधाम से मनाया जाता है। जिसमे हजरत साहब के मानने वाले अकीदतमन्द देश के कोने कोने से लेकर विदेशो से भी बड़ी संख्या में आते हैं। दरगाह कमेटी की ओर से सभी के रहने खाने व जियारत की व्यवस्था की जाती है।  इस मौके पर मो. हाशिम, मो. गुड्डू साबरी, मो. अफजाल खान साबरी, अनीस, सरताज, नवाब, वकील आदि मौजूद रहे।

0Shares
Total Page Visits: 895 - Today Page Visits: 1

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *