सावन के पहले सोमवार पर शिवालयों में हर-हर महादेव की रही गूंज

शहर के ताम्बेश्वर मन्दिर सहित जिले भर के मन्दिरों में उमड़ी भीड़
तांबेश्वर मंदिर मे शिवलिंग पर जलाभिषेक करते श्रद्धालु।
फतेहपुर। भगवार शिव को परमप्रिय सावन मास के पहले सोमवार पर शिवालयों में भोर से ही आस्था का सैलाब उमडना शुरू हो गया। भक्तो द्वारा भगवान का जलाभिषेक किया गया। शाम को शहर के प्रमुख मन्दिरो में भगवान शिव का आकर्षक श्रगार किया गया। सावन के पहले सोमवार को लेकर रविवार को मन्दिरो की तैयारिये को अन्तिम रूप दिया गया था। पहले सोमवार पर भगवान शिव की मन्दिरो और घरो में विशेष पूजा अर्चना की गयी। मुख्यालय सहित जिले भर के छोटे बडे शिवालयो में भगवान की पूजा अर्चना के लिये भक्तो की भारी भीड उमडी सभी शिवालायो पर सुरक्षा व्यवस्था के व्यापक इन्तजाम किये गये है।
शहर के सिद्ध पीठ ताम्बेश्वर मन्दिर का सावन मास में अपना अलग ही महत्व है। पत्येक वर्ष भगवान शिव के लिंग पर जल चढाने वालो का सैलाब सुबह से ही उमडना शुरू हो जाता है। जो दिन भर चलता हैं। इस मन्दिर पर उमडने वाली भीड को नियत्रित करने तथा सुरक्षा व्यवस्था बनाये रखने के लिये पुलिस अधीक्षक रमेश ने रविवार को अधिनस्थो के साथ किये गये इन्तजामो को भी परखा था। शिवालय के इस मार्ग पर रूट डायवर्जन भी कर दिया गया था। इसी तरह जिले भर के शिवालयो पर भी व्यापक सुरक्षा व्यवस्था के बीच श्रद्धालुओ ने हर-हर महादेव के उद्धघोष के बीच भगवान शिवशंकर की पूजा अर्चना कर खुशहाली की कामना की। उधर पहले सोमवार को लेकर गंगा तटो पर भी बडी संख्या में लोगो ने स्नान करने के साथ भी गंगा जल लाकर शिवलिंग पर जलाभिषेक भी किया। अधिकांश शिवालयो पर दिनभर मेलो जैसा दृश्य रहा। मन्दिर परिसर के बाहर जमकर दुकानो भी लगी थी जहा पर युवतियों व बच्चो ने अपनी पसन्दीदा वस्तुये भी खरीदी। बेलपत्र, फूल, धतूरा, दूध-दही समेत पूजा में लगने वाली अन्य सामग्री के साथ भगवान शिव की पूजा अर्चना भक्तों द्वारा की गयी। भक्तों ने भोलेनाथ की पूजा अर्चना कर परिवार की सुख-समृद्धि की कामना भी की। ताम्बेश्वर मंदिर के अलावा कृष्ण विहारी नगर स्थित मोटे महादेवन, मसवानी स्थित कालिकन मंदिर, शीतलन आदि मंदिरों में भोले शंकर की पूजा अर्चना के लिए भक्तों का तांता लगा रहा।

0Shares
Total Page Visits: 1296 - Today Page Visits: 1

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *