साधन की तलाश में भूखे प्यासे भटके लोग

 रेलवे स्टेशन के बाहर बैठे उड़ीसा प्रान्त के मजदूर
फतेहपुर। कोरोना वायरस के चलते जनता कर्फ्यू में रात्रि बरह बजे के बाद की अधिकतर ट्रेनें रद्द रही। वही रोडवेज बसे समेत जिले व शहर के अंदर चलने वाले ई रिक्शा तक बन्द रहे। जिससे जरूरतमन्दों को एक जगह से दूसरी जगह जाने के लिये निजी वाहनों के अलावा पद यात्रा करनी पड़ी। वही इस सब से अनजान रेलवे स्टेशन पर उड़ीसा राज्य से उन्नाव जनपद को जाने वाली लगभग आधा सैकड़ा सवारियां दोपहर बारह बजे ट्रेन से उतरी। लेकिन स्टेशन पर उतरते ही उन्हें कोरोना वायरस के कारण लॉक डाउन की जानकारी मिली। जिससे उनके पैरों तले जमीन निकल गयी। यात्रियों में बड़ी संख्या ईंट भट्टो में काम करने वाली लेबर में पुरूषों के साथ महिलाएँ एवं बच्चे भी थे। रेलवे स्टेशन पर किसी तरह साधन न होने के कारण यात्री काफी देर फंसे रहे और लोगो से बस स्टॉप तक पहुंचाने की गुहार लगाने के साथ ही खाने पीने के लिये होटलों का पता पूछते रहे। लोगो ने उन्हें पूरी तरह से बन्दी बसे व हाइवे पर अन्य वाहनों के बन्द होने की जानकारी दी। इसी बीच बड़ी संख्या में गैर प्रान्त से आये लोगो की जानकारी किसी ने रेलवे सुरक्ष बलो को दी। पुलिस ने पहुंचकर लोगो को ट्रेन के जरिए कानपुर मांर्ग से उन्नाव जाने कि वापस रेलवे स्टेशन भेज दिया।

0Shares
Total Page Visits: 343 - Today Page Visits: 1

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *