सरकारी तौर पर आम की बिक्री एसडीएम से कराये जाने की मांग

 एसडीएम को ज्ञापन देने जाते बाग संचालक
फतेहपुर। बागवानी के आम की बिक्री समय से न हो पाने के कारण चिन्तित बाग संचालित करने वालों ने गुरूवार को कलेक्ट्रेट आकर उप जिलाधिकारी को एक ज्ञापन सौंपा। जिसमें पूरी समस्या का हवाला देते हुए सरकारी तौर पर आम की बिक्री कराये जाने की गुहार लगायी।
गाजीपुर ब्लाक क्षेत्र के तमाम किसान कलेक्ट्रेट पहुंचे और उप जिलाधिकारी को एक ज्ञापन सौंपकर बताया कि वह सभी बागवानी का कार्य करते हैं। जनपद में बागो को किराये में किसान से ले रखा है। जिनका किराया उनके द्वारा किसानों को अग्रिम रूप से दे दिया है। लेकिन कोविड-19 के कारण लाकडाउन में उनके द्वारा लाया गया आम मण्डी समिति तपस्वी नगर तक ले जाया जाता है लेकिन आम की बिक्री न हो पाने के कारण आम की पूरी खपत नहीं हो पाती है। बताया कि उनका आम मण्डी में ही पड़े-पड़े खराब हो रहा हे और न ही वह फलों को जनपद के बाहर भी ले जा पा रहे हैं। जिससे उनके फलों की बिक्री न हो पाने के कारण उनकी आर्थिक स्थिति बहुत ही कमजोर हो गयी है। जिससे वह व परिवार भुखमरी की कगार पर आ गया है। साथ ही साथ उनको बागवानी का ऋण भी किसानों को देना है। बागवान मालिकों द्वारा उन पर रूपया देने का दबाव भी बनाया जा रहा है। जिस कारण वह बहुत ही मानसिक प्रताड़न से जूझ रहे हैं। बताया कि आंधी, ओला व मौसम की मार से उनका बागवानी का आधा आम बर्बाद हो गया है। ऐसी स्थिति में आम की सरकारी तौर पर बिक्री कराया जाना बेहद जरूरी है। जिससे उनके सामने आर्थिक संकट उत्पन्न न हो सके। इस मौके पर रहमत अली, मो0 हाशिम, मोसिन, हसरत अली, सद्दाम हुसैन, मो0 कासिम, मो0 काजिम, गुड्डू, मो0 हनीफ, लल्लू, इरशाद, रफीक, अजय सोनकर, भागवत सिंह, नूर अली आदि मौजूद रहे।

0Shares
Total Page Visits: 237 - Today Page Visits: 1

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *