सत्रह सूत्रीय मांगों को लेकर प्रधानों ने सीएम को भेजा ज्ञापन

 

 डीएम को मांगों का ज्ञापन सौंपते प्रधान
फतेहपुर। राष्ट्रीय पंचायती राजग्राम प्रधान संगठन के प्रान्तीय आहवान पर जिला इकाई के बैनर तले प्रधानों ने जिलाध्यक्ष की अगुवई में कलेक्ट्रेट पहुंचकर विभिन्न समस्याओं के निराकरण से सम्बन्धित सत्रह सूत्रीय मुख्यमंत्री को सम्बोधित ज्ञापन जिलाधिकारी को सौंपा। ज्ञापन में प्रधानों के अधिकारों में की गयी कटौती को बहाल करने के साथ ही नगर पंचायतों की भांति कूड़ा उठवाने के लिए वाहन क्रय करने पर लगायी गयी रोक को हटाये जाने की भी मांग की है।
संगठन के जिलाध्यक्ष नदीम उद्दीन पप्पू के नेतृत्व में बड़ी संख्या में प्रधान कलेक्ट्रेट पहुंचे और मुख्यमंत्री को सम्बोधित ज्ञापन जिलाधिकारी को सौंपा। ज्ञापन में ग्राम पंचायतों/प्रधानों के कार्य संचालन में आ रही बाधा, अधिकारों में की गयी कटौती को समाप्त करने के साथ ही विभिन्न समस्याओं के निराकरण की मांग की गयी है। इनमें ग्राम समाज की जमीन पर अवैध निर्माण को पुलिस द्वारा तत्काल रूकवाने, ग्राम सभा की सभी प्रकार की जमीनों, चकरोड, नाला, शमशान, कब्रिस्तान, खलिहान, तालाब आदि का सम्पत रजिस्टर लेखपालों से बनवाकर प्रधानों को उपलब्ध कराने, चार वर्षों से भूमि प्रबन्धक समिति की बैठकों पर लगायी गयी रोक को समाप्त करने, ग्राम समाज के क्षेत्र में होने वाले खनन की आमदनी का दस फीसदी ग्राम सभा कोष में दिलाये जाने, मछली पालन व विकास के अधिकार देने के साथ ही ग्राम पंचायत स्तर पर सम्पादित निर्माण कार्यों में संबंधित विभागीय कर्मचारी/अधिकारी को भी जिम्मेदार ठहराये जाने जैसी मांगे शामिल हैं। इस मौके पर भोले शंकर द्विवेदी, नरेन्द्र यादव सुल्तान, स्वामी शरन पाल, सरफराज हुसैन शानू, सुधाकर तिवारी, संगीता देवी, राज बहादुर, शेर बहादुर सिंह, जगतपाल, पुष्पा देवी, गजेन्द्र सिंह, मो0 यासीन, श्रवण कुमार आदि प्रधान रहे।

रिपोर्ट – शमशाद खान,फतेहपुर

0Shares
Total Page Visits: 878 - Today Page Visits: 1

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *