शहर से लेकर ग्रामीणांचलों तक बिक रहे मादक पदार्थ

फतेहपुर। शहर से लेकर ग्रामीणांचलों तक खुली परचून की दुकानों व मेडिकल स्टोरों में मादक पदार्थो की बिक्री धड़ल्ले से की जा रही है। युवा वर्ग इसकी चपेट में आकर लती हो रहे है और अपने भविष्य को अंधकार की ओर ले जा रहे है। उधर जनपद के अधिकांश कस्बों में मादक पदार्थो की बिक्री की खबर है। अवैध रूप से हो रहे मादक पदार्थो की बिक्री को लेकर प्रशासन मूकदर्शक बना हुआ है।
शहर के अधिकांश मुहल्लों में मादक पदार्थो की बिक्री धड़ल्ले से जारी है। परचून हो या मेडिकल स्टोर इन सभी में प्रतिबंधित नशीली दवाओं की बिक्री हो रही है। परचून की दुकानों में अलग-अलग ब्रांड के मुनक्के (भांग से निर्मित) की बिक्री हो रही है। इन मादक पदार्थो की चपेट में आकर लोग खासतौर पर युवा वर्ग अपना भविष्य को बर्बाद कर रहे है। इतना ही नहीं भांग की दुकानों में गांजा व चरस की बिक्री खुलेआम की जा रही है। अवैध रूप से हो बिक्री को लेकर प्रशासन सजग नही है बल्कि मूकदर्शक बनी हुई है। प्रशासन की इस अनदेखी की वजह से दुकानों एवं गुमटियों में खुलेआम मादक पदार्थो की बिक्री हो रही है। उधर जनपद के अधिकांश कस्बों एवं ग्रामीणांचलों में जगह जगह खुली परचून की दुकानों एवं पान की गुमटियों में भी खुलेआम भांग, चरस और गांजा की बिक्री हो रही है।

0Shares
Total Page Visits: 1075 - Today Page Visits: 2

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *