विनोवा नगर के डेरा में छेड़छाड़ को लेकर दो पक्षों में हुयी पत्थरबाजी

पुलिस व एलआईयू ने दो घण्टे मशक्कत कर हालात पर किया काबू
 गांव के हालात का जायजा लेती पुलिस व एलआईयू टीम तथा पीड़ित पक्ष से वार्ता करती पुलिस
फतेहपुर। सदर कोतवाली क्षेत्र के विनोवा नगर के डेरा में आज उस समय बवाल हो गया जब एक महिला से छेड़छाड़ का विरोध उसके पति ने किया। दबंगों ने जहां दम्पति की पिटाई कर दी वहीं गांव के कई घरों में पत्थरबाजी कर तोड़फोड़ भी की। घटना को लेकर दोनों पक्षों में तनातनी का माहौल हो गया। जानकारी मिलने पर भारी पुलिस बल व एलआईयू टीम मौके पर पहुंची और कड़ी मशक्कत कर दो घण्टे बाद हालात पर काबू किया।
जानकारी के अनुसार राधानगर चौकी क्षेत्र के अन्तर्गत आने वाले विनोवा नगर के डेरा निवासी पुनीत कुमार की पत्नी रबीना देवी किसी काम से जा रही थी। तभी गांव के ही दबंग विनोद कुमार, ऋषिकेश, शनिकेश, धीरू, वीरू व प्रेमचन्द्र ने उसे घेर लिया और छेडछाड़ करने लगे। जब इसकी जानकारी पति पुनीत को हुयी तो वह तत्काल मौके पर पहुंचा और छेडछाड़ का विरोध करने लगा। इस पर दबंगों ने दम्पति को जमकर पीट दिया। मारपीट व छेड़छाड़ की इस घटना से गांव में तनातनी का माहौल हो गया। दोनों पक्षों से लोग एकत्र हो गये। बताया जाता है कि दबंगों के पक्ष से लगभग डेढ़ सैकड़ा लोग मौके पर पहुंच गये और गांव के कई घरों में जमकर पत्थरबाजी करते हुए घरों में भी घुस गये। दबंगों ने सारी हदें पार करते हुए गृहस्थी का सामान भी तोड़ दिया। तभी किसी ने इसकी जानकारी डायल-112 को दी। घटना की जानकारी मिलते ही पीआरवी के अलावा कोतवाली प्रभारी निरीक्षक रवीन्द्र श्रीवास्तव व राधानगर चौकी इंचार्ज अश्वनी कुमार भारी पुलिस बल के साथ गांव पहुंच गये और दोनों पक्षों को शांत कराने का प्रयास किया। कोतवाली प्रभारी ने लगभग दो घण्टे कड़ी मशक्कत कर दोनों पक्षों को शांत कराया और कहा कि जिसे भी कोई शिकायत है तो वह थाने आकर तहरीर दे। कार्रवाई अवश्य की जायेगी। कानून को अपने हाथ में न लें। वरना पुलिस कार्रवाई करने के लिए विवश हो जायेगी। जिसके बाद दोनों पक्ष शांत हुए। एलआईयू की टीम में उपनिरीक्षक मो0 इरशाद व राहुल सिंह भी पल-पल की जानकारी लेते रहे। मामला शांत होने के बाद गांव में सन्नाटा पसारा रहा।

0Shares
Total Page Visits: 309 - Today Page Visits: 1

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *