लम्बित प्रमाण पत्रों के चलते पटल प्रभारी पर डीएम की गिरी गाज

पक्के नाले को समय पर पूरा करने की कार्यदायी संस्था को दी हिदायत

फतेहपुर। जिलाधिकारी संजीव सिंह ने जिला चिकित्सालय के सामने बन रहे पक्के नाले का औचक निरीक्षण किया। निरीक्षण के दौरान उन्होंने कार्यदायी संस्था को निर्देशित किया कि तय समय के अंदर पक्के नाले का निर्माण पूरा करें। जिससे अस्पताल परिसर में आने वाले मरीजों को परेशानी न हो। परिसर के सामने निष्प्रयोज्य पड़ी बिल्डिंग को तुड़वाकर साफ सफाई के निर्देश मुख्य चिकित्साधिकारी को दिए।

जिलाधिकारी ने चिकित्सा विभाग के जेई के अनुपस्थित रहने पर कड़ी नाराजगी जाहिर करते हुए उनका एक दिन का वेतन काटने के निर्देश दिए। उन्होंने जिला महिला चिकित्सालय में जन्म-मृत्यु पटल का औचक निरीक्षण किया। जन्म मृत्यु प्रमाण पत्र बनाने में अनिमियतता पाए जाने पर वरिष्ठ सहायक राजेश कुमार को कड़ी फटकार लगाई। राजेश कुमार द्वारा बताया गया कि तीन दिन पहले कार्यभार ग्रहण किया गया था। इससे पहले वरिष्ठ सहायक शैलेष श्रीवास्तव थे। कार्यालय में जन्म मृत्यु प्रमाण पत्र के पटल प्रभारी पंकज द्वारा कार्य में लापरवाही, 10-11 मार्च से लंबित प्रमाण पत्र न बनने, वर्ष 2017 से लम्बित प्रमाण पत्रों को न जारी करने सहित अन्य गम्भीर शिकायतों पर कड़ा रोष प्रकट करते हुए निलम्बन आदेश जारी करने तथा प्रमुख सचिव को एक प्रति भेजने की हिदायत दी। उन्होंने चिकित्सा विभाग की कार्यालयी प्रणाली पर गहरी नाराजगी जाहिर करते हुए मुख्य चिकित्साधिकारी से कहा कि इस तरह की कार्यप्रणाली कतई बर्दाश्त नहीं होगी। उन्होंने सीएमएस महिला को निर्देशित किया कि वर्ष 2015 से 2018 तक के जन्म प्रमाण पत्र रजिस्टर निकलवाकर उनके समक्ष प्रस्तुत किये जाये। साथ ही जारी प्रमाण पत्रों का माहवार डाटा तैयार कर दिखायें। प्रसव कक्ष में तैनात नर्स हीरामणि द्वारा तीमारदारों से अवैध धन उगाही की शिकायत प्राप्त होने पर मुख्य चिकित्साधिकारी को प्रकरण की जांच कर  रिपोर्ट शाम तक देने के निर्देश दिये।

0Shares
Total Page Visits: 573 - Today Page Visits: 1

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *