मरीजों को गुमराह कर नर्सिंग होम ले जातीं महिला दलाल

मरीजों को गुमराह कर नर्सिंग होम ले जातीं महिला दलाल
फतेहपुर। जिला महिला चिकित्सालय में महिला दलालों का बोलबाला है। यह महिला दलाल प्रत्येक दिन सुबह से ही चिकित्सालय में डेरा जमा देती है और सारा दिन अस्पताल आने वाली महिला मरीजो एवं उनके तीमारदारों को गुमराह कर नर्सिग होम ले जाती हैं। लेकिन जब उनका उपचार के नाम पर जमकर्र आिथर््ाक शोषण होता है। तो वह अपनी पीडा तक बता पाने मे असमर्थ होते हैं लेकिन स्वास्थ विभाग इन महिला दलालों को अस्पताल मंे आने नही रेाक पा रहे है। जबकि ऐसा नही है कि दलालों से चिकित्सालय के स्वास्थ कर्मी या विभाग वाकिफ न हो। सूत्रो का कहना है कि कोई भी मरीज ऐसा नही होता जो उपचार के लिये प्रतिदिन आता हो। इसी से इन महिला दलालो की शिनाख्त की जा सकती है। क्योकि यह रोजाना ही यहां डटी रहती है और जो रोजाना सारा दिन महिला चिकित्सालय में डेरा जमाये तो उसकी दलाल होनेे की अलावा और क्या वजह हो सकती है। इन दलालों पर कार्रवाई किये जाने के लिए कई बार स्वास्थ्य विभाग द्वारा कदम उठाये गये लेकिन आज तक यह कदम सार्थक साबित नहीं हुए। यह महिला दलाल मरीजों को गुमराह करके प्राइवेट नर्सिंग होमों में बेहतर उपचार का दावा करके ले जाने का काम करती हैं और उन्हें उमुक नर्सिंग होम द्वारा कमीशन दिया जाता है और फिर खेल होता है मरीजों के तीमारदारों को लूटने का। तीमारदारों से सबसे पहले मरीज को भर्ती करने के लिए मोटी रकम जमा करवायी जाती है फिर प्रतिदिन दवाओं व सुविधा के नाम पर पैसे जमा कराये जाते हैं। लेकिन मरीज को बेहतर उपचार नहीं मिल पाता। शहर क्षेत्र के कई ऐसे नर्सिंग होम में जो झोलाछाप चिकित्सकों के भरोसे चल रहे हैं। साइन बोर्डों पर लोगों को दिखाने के लिए चर्चित चिकित्सकों के नाम तो लिख दिये जाते हैं लेकिन वह चिकित्सक यहां बैठते तक नही है। इस प्रकार मरीजों के तीमारदारों की जेबों में डाका डालने का काम किया जा रहा है।

0Shares
Total Page Visits: 5120 - Today Page Visits: 1

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *