मनोनीत कांग्रेस के प्रदेश महासचिव व सचिव का स्वागत

भाजपा विकास से हटकर गुमराह करने वाली पार्टी-राकेश

फतेहपुर। लोकसभा चुनाव में समाजवादी पार्टी से टिकट कट जाने के बाद कांग्रेस से चुनाव लड़ने वाले पूर्व सांसद राकेश सचान को प्रियंका गांधी के निर्देश पर गठित की गयी प्रदेश कांग्रेस कमेटी में महासचिव व जिले के ही दपसौरा गांव के पूर्व प्रधान राकेश प्रजापति को प्रदेश सचिव मनोनीत किये जाने पर पहली बार जनपद आगमन पर जिले के कांग्रेसियों ने गुटबंदी के बीच जिले की सीमा छिवली नदी से जिला कांग्रेस कमेटी के बुलेट चौराहा स्थित कार्यालय तक फूल-मालाओं से स्वागत किया। तत्पश्चात पार्टी कार्यालय में आयोजित समारोह को सम्बोधित करते हुए प्रदेश महासचिव राकेश सचान ने कांग्रेसियों का आहवान किया कि वह गुटबंदी को छोड़कर एकजुटता के साथ कांग्रेस को फिर से खड़ा करने का मन से बीड़ा ठान लें।

कांग्रेस कमेटी के प्रदेश महासचिव राकेश सचान व प्रदेश सचिव राकेश प्रजापति का काफिला रविवार को कानपुर नगर के सर्किट हाउस से जनपद के लिए चला। जिले की सीमा छिवली नदी, चौडगरा, मुरादीपुर, रेवाड़ी, मलवां, अल्लीपुर, सौंरा, सनगांव व शहर के नऊवाबाग से पार्टी कार्यालय तक गुट में बंटे कार्यकर्ताओं ने फूल-मालाएं पहनाकर प्रान्तीय नेताओं का स्वागत किया। पार्टी कार्यालय में उपस्थित कांग्रेसजनों को सम्बोधित करते हुए प्रदेश महासचिव ने भाजपा पर जमकर तीर चलाये। उन्होने कहा कि महाराष्ट्र व हरियाणा में हो रहे विधानसभा चुनाव से विकास के मुद्दे भाजपा ने गायब कर दिये हैं। सिर्फ और सिर्फ कश्मीर से धारा 370 को हटाने के नाम पर भाजपा वोट मांगने का घिनौना काम कर रही है। उन्होने कहा कि देश और प्रदेश में लफ्फाजी पर ही सरकार चल रही है। जबकि आम जनमानस परेशान है। उन्होने कहा कि पिछले लोकसभा चुनाव में भाजपा की सरकार जाने वाली थी। लेकिन बालाकोट की घटना के नाम पर देश की जनता को गुमराह कर राष्ट्रवाद के नाम पर जनता से वोट हासिल कर सरकार में आ गयी। लेकिन अभी चार माह भी नहीं बीते कि जनता त्राहिमाम कर अपनी गलती पर पछता रही है। उन्होने कहा कि यूपी में कांग्रेस के खोये जनाधार को वापस लाने के लिए प्रियंका गांधी की कोशिशें जारी हैं। उन्होने कहा कि प्रदेश की नई कमेटी पर जिम्मेदारियों का बोझ है। इसलिए एक-एक कार्यकर्ता मन लगाकर काम करे। तभी पार्टी मजबूत होगी। उन्होने यह भी कहा कि कांग्रेस भले ही जनाधार खो चुकी हो लेकिन चुनाव में टिकट सबसे मजबूत होता है। उन्होने यह भी कहा कि गुटबाजी से कांग्रेस मजबूत नही हो सकती। इसलिए जिले में बनने वाली कमेटी में सक्रिय व जुझारू लोगों को जिम्मेदारी सौंपी जायेगी। कांग्रेस को फिर से पुराने मुकाम पर लाने के लिए बूथ स्तर पर संगठन बनाना होगा। उन्होने तंज कसते हुए कहा कि सोशल मीडिया पर छाये रहने से ही पार्टी मजबूत नहीं हो सकती। उन्होने अभी से ही 2022 के विधानसभा चुनाव में मनमुटाव को दूर कर तैयारियों में लग जाने की नसीहत दी। अध्यक्षता निवर्तमान जिलाध्यक्ष अखिलेश पाण्डेय एवं संचालन पीसीसी सदस्य शिवाकांत तिवारी ने किया। इस मौके पर प्रदेश सचिव राकेश प्रजापति, राजेन्द्र शुक्ला, अजय अवस्थी, ओम प्रकाश गिहार, श्रीराम यादव, जगमोहन यादव, सुनील शुक्ला, हेमलता पटेल आदि ने समारोह को सम्बोधित करते हुए कांग्रेस को मजबूत करने पर जोर दिया। इस मौके पर एसपी शुक्ला, वीरेन्द्र सिंह चौहान, केके बाजपेयी एडवोकेट, गुलाब सिंह एडवोकेट, पीयूष दीक्षित, अरविन्द द्विवेदी, विनोद द्विवेदी, सुधाकर अवस्थी, एमएल श्रीवास, मणि प्रकाश दुबे, बबलू कालिया, रंजीत पटेल, नितिन सिंह सहित कांग्रेसजन मौजूद रहे।

0Shares
Total Page Visits: 587 - Today Page Visits: 2

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *