मजदूरी दिलाये जाने की खातिर कलेक्ट्रेट आये प्रवासी

चौडगरा स्थित कोल्ड स्टोर का मामला
 एसडीएम को ज्ञापन देने के लिए कलेक्ट्रेट में खड़े प्रवासी मजदूर
फतेहपुर। कोरोना वायरस के संक्रमण के दौरान चल रहे लाकडाउन में प्रधानमंत्री व मुख्यमंत्री ने सभी फैक्ट्री मालिकों का आहवान किया था कि मजदूरों की मजदूरी न मारें उन्हें उनका हक समय से दे दें। इसके बावजूद कई मामले ऐसे सामने आ रहे हैं जिनमें बड़ी फर्मां द्वारा मजदूरों के साथ सौतेला व्यवहार किया जा रहा है। मंगलवार को दो दर्जन प्रवासी मजदूर कलेक्ट्रेट पहुंचे और मजदूरी दिलाये जाने की एसडीएम से गुहार लगायी। यह सभी मजदूर चौडगरा कस्बा स्थित कोल्ड स्टोर में काम करते हैं।
कल्यानपुर थाना क्षेत्र के चौडगरा कस्बा स्थित ममता कोल्ड स्टोर एण्ड आइस प्लांट में काम करने वाले दो दर्जन मजदूर पैदल चलकर मुख्यालय स्थित कलेक्ट्रेट आये और उप जिलाधिकारी को ज्ञापन सौंपकर बताया कि कोल्ड स्टोर के मालिक/स्वामी ने उनको दस हजार रूपये अग्रिम धनराशि देकर आठ रूपये प्रति बोरी की लोडिंग कराने के लिए तय करके लाये थे। उन्होने फरवरी, मार्च, अप्रेल, मई में बीस हजार बोरी आलू की लोडिंग करायी है। जिसकी मजदूरी एक लाख साठ हजार रूपये होती है। जिसमें डेढ़ लाख रूपये प्राप्त होना है लेकिन कोल्ड स्टोर मालिक प्रवासी मजदूरों को न तो कोई धनराशि दे रहे हैं और न ही लाकडाउन में राशन पानी दे रहे हैं। बताया कि घर भी जाने नहीं दे रहे हैं। ऐसी स्थिति में उनके सामने भूखों मरने की स्थिति आ गयी है। बताया कि वह चौडगरा से पैदल चलकर यहां आये हैं। उन्होने उप जिलाधिकारी से स्टोर मालिक से डेढ़ रूपये का भुगतान करवाकर मधेपुरा प्रान्त बिहार पहुंचवाये जाने की गुहार लगायी है। इस मौके पर शंकर कुमार, पंकज, अरूण, चंदन, अजय, विकास, दिलवर, मुन्ना, विश्वनाथ, बैजनाथ, सोनू, मंजीत, मंटू, मनेज, राजकुमार, सरवन, दिलचन्द्र, दुलार, एमबी शाह, डीमी कुमार आदि मौजूद रहे।

0Shares
Total Page Visits: - Today Page Visits:

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *