मंदिर का संचालन प्रशासन से कराने की गुहार …

मंदिर का संचालन प्रशासन से कराने की गुहार …

फतेहपुर। शहर स्थित श्रीश्री सिद्धपीठ कालिकन मंदिर का विवाद दिनों दिन गहराता जा रहा है। मंदिर समिति के पदाधिकारी व पुजारी एक-दूसरे पर आरोप प्रत्यारोप लगा रहे हैं। समिति द्वारा पुजारी को निकाले जाने का मामला भी तूल पकड़ता जा रहा है। मंदिर के निष्कासित पुजारी ने श्रद्धालुओं संग जिलाधिकारी को ज्ञापन देकर मंदिर की आमदनी को डकारने की जांच कराने के साथ ही प्रशासन से मंदिर की देखरेख कराये जाने की मांग की है।
मंदिर के पुजारी आशीष दीक्षित की अगुवई में आधा सैकड़ा से अधिक मंदिर से जुड़े लोगों ने जिलाधिकारी को शिकायती पत्र देकर बताया है कि सोनू गुप्ता, लाल जी यादव व राजन गुप्ता आदि मंदिर का संचालन कर रहे हैं। इनके द्वारा मंदिर के दान पत्रों में जो धन एकत्र होता है साथ ही बड़ी धनराशि के रूप में आभूषण आदि भक्तगण दान करते हैं उसे सार्वजनिक न करके अपने घरों पर रखे हुए हैं। जबकि मंदिर की आमदनी की आय का विवरण सार्वजनिक किया जाना चाहिए। आरोप लगाया कि समिति के कुछ पदाधिकारी धन व आभूषण को हड़पना चाहते हैं। उन्होने यह भी कहा कि दान के रूप में आने वाले कुछ अंश दिखावे के रूप में लगाया जाता है। जिससे आम जनमानस में भारी आक्रोश है। डीएम से मांग की गयी है कि जबरन मंदिर पर कब्जा करने वालों के खिलाफ कार्रवाई करते हुए मुद्दे का निस्तारण होने तक मंदिर का संचालन का जिम्मा प्रशासन अपने हाथों में ले। इस मौके पर बिन्दकी विधानसभा के भाजपा प्रभारी अजय सिंह कछवाह, शिव गोविन्द, बऊवा शुक्ला, मनोज मिश्रा, राजा सिंह कछवाह, सुशील कुमार तिवारी, श्याम सिंह, संतोष पाण्डेय, दीपक मिश्रा, राजेश मौर्य, संजीव मिश्रा, प्रदीप शुक्ला, लल्लन द्विवेदी, दिनेश कुमार सिंह, सोनू शुक्ला सहित बड़ी संख्या में लोग रहे।

0Shares
Total Page Visits: 1093 - Today Page Visits: 1

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *