भव्य आचार्य सम्मान समारोह में 171 शिक्षक सम्मानित

आचार्यों को सम्मानित करते प्रबन्धक
फतेहपुर। शिक्षक दिवस के मौके पर सरस्वती बाल मंदिर इण्टर कालेज रघुवंशपुरम में शहर में संचालित बाल मंदिर की तीनों शाखाओं के 171 आचार्य साथियों एवं आचार्य बहनों को प्रबंध समिति की ओर से स्मृति चिन्ह, अंग वस्त्र व तुलसी का पौधा भेंटकर सम्मानित किया गया। सर्वश्रेष्ठ प्रधानाचार्य के सम्मान से खागा ब्रांच के प्रधानाचार्य राजकपूर सिंह व सरस्वती शिक्षक के रूप में ममता, वंदना, विष्णुदत्त, त्रिभुवन सिंह, महेशलाल, सोनू, रजनीश कुमार गोस्वामी व भूपेन्द्र मिश्रा को शील्ड, प्रमाण पत्र तथा 51 सौ रूपये नकद धनराशि देकर नवाजे गये।
सम्मान के क्रम में व्यवस्था के क्षेत्र में विशिष्ट योगदान देने वाले रंजीत कुमार, अरविन्द दीक्षित, दिनेश कैथल, अनिल मिश्रा व विनोद गुप्ता को विशिष्ट सेवा पुरस्कार से सम्मानित किया गया। आचार्य सम्मान समारोह की अध्यक्षता वरिष्ठ साहित्यकार मधुसूदन दीक्षित ने की। जबकि विशिष्ट अतिथि के रूप में विद्यालय के संरक्षक सुधाकर अवस्थी व वरिष्ठ शिक्षाविद महेश चन्द्र त्रिपाठी मौजूद रहे। समारोह को सम्बोधित करते हुए प्रबन्धक राकेश त्रिवेदी ने कहा कि पौराणिक शिक्षा व्यवस्था विशेष कारगर व फलीभूत थी। क्योंकि उस समय विद्यार्थियों और उनके अभिभावकों का गुरूओं के प्रति अगाधि समर्पण था, इसके विपरीत आज शिक्षा के संसाधन तो बढ़े हैं लेकिन गुरूओं के प्रति सम्मान व समर्पण में गिरावट आयी है। जिसका परिणाम सामाजिक अव्यवस्था व अनाचार के रूप में सामने है। उन्होने कहा कि यदि समाज को बचाना है तो आने वाली पीढ़ी को गुरूओं के प्रति समर्पित होना पड़ेगा। समारोह को प्रधानाचार्य राजकपूर सिंह, महेश चन्द्र, सुधाकर अवस्थी, मनीष, पंकज, कुलदीप, विनीत आदि ने भी सम्बोधित किया।

0Shares
Total Page Visits: 613 - Today Page Visits: 2

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *