बकरीद पर्व को लेकर बाजार में बकरों की जमकर हुयी खरीददारी

 तीस हजार रूपये तक के बकरों की हुयी बिक्री
 पर्व के दिन से तीन दिन लगातार लगेगी बाजार-गुलाम जाफर
बकरमण्डी में बिक्री के लिए खड़े बकरे।
फतेहपुर। ईदुल अलहा का पर्व बारह अगस्त यानी सोमवार को समूचे जनपद में धूमधाम से मनाया जायेगा। जिसको लेकर अन्तिम बाजार के चलते शनिवार को नऊवाबाग स्थित बकर मण्डी में बड़ी संख्या में व्यापारियो द्वारा लाये गये कुर्बानी के बकरों की लोगो ने जमकर खरीददारी की। उधर बाजार में तीस हजार कीमत से अधिक के बकरे भी लोगों ने खरीदे। बकरमण्डी में देर शाम तक बकरो की खरीददारी का सिलसिला चलता रहा। बाजार मालिक गुलाम जाफर एडवोकेट ने बताया कि पर्व के दिन से तीन दिन लगातार बकरो की बाजार लगायी जायेगी। खरीददारो की बडी संख्या में आमद से बाजार परिसर में पैर रखने की जगह नही थी। सुरक्षा के लिहाज से पुलिस बल की तैनाती की गयी थी।
प्रत्येक वर्ष की भांति इस वर्ष भी त्यौहार की अन्तिम बाजार पडने के चलते नऊवाबाग स्थित बकरमण्डी में सुबह से ही व्यापारियो ने अपने माल को लाना शुरू कर दिया था। प्रातः नौ बजे से ही बकरमण्डी में खरीददारो की भीड उमडना शुरू हो गयी थी। दिन चढते-चढते बाजार में पैर रखने की जगह भी नही बची थी। कुर्बानी के लिये लोगो ने अपने जेब की परवाह न करते हुये कीमती से कीमती तन्दुरूस्त बकरो की जमकर खरीददारी की। यह खरीददारी का सिलसिला देर शाम तक चलता रहा। अन्तिम बाजार के चलते बाजार के बाहर जीटी रोड पर भी लोग बकरे बेंचने व खरीदने के लिए खड़े रहे। जिससे हल्की-फुल्की जाम की स्थिति भी रही। बाजार मालिक गुलाम जाफर एडवोकेट ने बताया कि 30 से 40 हजार रूपये तक के बकरे आये हैं। जिन्हे लोग खरीदने के लिये बोली लगा रहे है। बाजार मालिक श्री जाफर ने बताया कि अन्तिम बाजार होने के चलते भीड तो जमकर उमडी और व्यापारियो द्वारा माल भी बडी तादात में लाया गया थां। पिछले वर्ष की तुलना में इस वर्ष की खरीददारी पर मंहगाई हावी रही उन्होने बताया कि व्यापारियो व खरीददारो की सुविधा के लिये बाजार परिसर में पेयजल की व्यवस्था भी की गयी थी। श्री जाफर ने बताया की बाजार मे बकरों की बिक्री के लिए इलाहाबाद, इटावा, औरेया, अलीगढ़, लखनऊ, रायबरेली, उन्नाव, कानपुर व मिर्जापुर के व्यापारी आये हैं। वहीं खरीददारी के लिए काठमाण्डू, झारखण्ड, बंगाल तक के लोग बाजार मे बकरों की खरीददारी की। वहीं श्री जाफर ने बताया कि आज बाजार के बाद पर्व के तीन दिन तक बिक्री के लिये बाजार लगायी जायेगी।

0Shares
Total Page Visits: 1426 - Today Page Visits: 2

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *