फतेहपुर में आशा बहू ने छेड़छाड़ व सरकारी कार्य में बाधा डालने का लगाया आरोप

आशा बहू ने छेड़छाड़ व सरकारी कार्य में बाधा डालने का लगाया आरोप

फतेहपुर। कोरोना महामारी रोकथाम के कार्य में लगी स्वास्थ्य कर्मी के साथ छेड़छाड़ व सरकारी कार्य में बाधा डालने पर आशा बहू कर्मचारी महासंघ की जिलाध्यक्ष रानी पटेल की अगुवई में पीड़िता ने अपर उप जिलाधिकारी को शिकायती पत्र देते हुए गांव के दबंग के विरुद्ध कार्रवाई किये जाने की मांग किया।
मंगलवार को कलक्ट्रेट पहुँची खागा तहसील के ग्राम लखीपुर निवासी आशा बहू रामदेवी पत्नी राम दुलारे ने अपर उपजिलाधिकारी को शिकायती पत्र देते हुए गांव के संजय पटेल पर उसके साथ छेड़खानी करने व सरकारी दस्तवेजों को फाड़ने और कार्य मे बाधा डालने का आरोप लगाते हुए उसके साथ मारपीट किये जाने की बात कही। शिकायती पत्र में बताया कि कोविड 19 की ड्यूटी के क्रम में उसके द्वारा प्रवासी श्रमिको के बाबत जानकारी एकत्र करने व क्वारन्टीन अवधि में रहने आदि की जानकारी करने के लिये विभाग से निर्देश दिए गये थे। कार्य के सर्वे के दौरान दिल्ली से लौटे संजय पटेल के बारे में जानकारी करने गयी तो उसके द्वारा गाली गलौच व मारपीट की करते हुए सरकारी दस्तवेजों को फाड़ दिया गया। साथ ही जानमाल की धमकी भी दी गयीं। रामदेवी ने बताया कि उसके द्वारा थाने में शिकायत करने के बाद हल्का सिपाही व आरोपी द्वारा लगतार छेड़छाड़ कर सुलह करने की धमकी दी जा रही है। पीड़िता ने कहा कि कोरोना महामारी रोकने के कार्यो में लगे स्वास्थ्यकर्मियों को सरकार द्वारा कोरोना योद्धा की उपाधि दी गयी है। ऐसे में सरकारी कार्यो में बाधा डालने व कर्मचारियों के साथ अभद्रता करने वालो को विरुद्ध गुंडा एक्ट व रासुका जैसी कार्रवाई किये जाने की मांग किया। इस मौके पर सुनीता, ज्योति सिंह, रेनू सिंह आदि मौजूद रही।

0Shares
Total Page Visits: 223 - Today Page Visits: 1

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *