प्रेरणा एप्प के विरोध में प्राथमिक शिक्षकों ने धरना दे सौंपा ज्ञापन

 ज्ञापन देने जाते शिक्षक
फतेहपुर। उत्तर प्रदेशीय प्राथमिक शिक्षक संघ की जनपद इकाई ने भी अन्य संगठनों की भांति प्रेरणा एप्प का विरोध शुरू कर दिया है। जिसके तहत बुधवार को शिक्षकों ने नहर कालोनी में धरना देकर प्रदेश सरकार की इस नीति को जमकर कोसा। तत्पश्चात जिलाधिकारी के माध्यम से मुख्यमंत्री को 22 सूत्रीय ज्ञापन भेजकर समस्याओं के निराकरण की मांग की गयी है। वक्ताओं ने कहा कि प्रेरणा एप्प एवं सेल्फी के माध्यम से प्रदेश के शिक्षकों की उपस्थिति निजता का हनन है।
पूर्व निर्धारित कार्यक्रम के तहत प्राथमिक शिक्षक संघ के बैनर तले बड़ी संख्या में शिक्षक धरना स्थल पर पहुंचे। धरने की अध्यक्षता जिलाध्यक्ष विनोद कुमार सिंह ने की। संगठन के पदाधिकारियों ने कहा कि बेसिक शिक्षा परिषद के शिक्षक/शिक्षिकाओं द्वारा परिषदीय विद्यालयों में गुणवत्तापरक शिक्षा दी जा रही है। पिछले वर्ष नामांकन में लाखों बच्चों की वृद्धि हुयी। इसके बावजूद समस्याओं का समाधान नहीं किया गया। समस्याओं की अनदेखी करके अनुपयोगी प्रेरणा एप्प प्रणाली लागू की जा रही है। जो निजता का हनन है। सौंपे गये ज्ञापन में प्रेरणा एप्प प्रणाली को वापस लिये जाने के साथ ही पुरानी पेंशन बहाल किये जाने, प्रधानाध्यापक प्राथमिक विद्यालय/सहायक अध्यापक पूर्व माध्यमिक विद्यालय को न्यूनतम वेतनमानस 17140 व पूर्व माध्यमिक विद्यालयों के शिक्षकों को न्यूनतम वेतनमानस 18150 का शासनादेश जारी करने, राज्य कर्मचारियों की भांति परिषदीय शिक्षकों को चिकित्सा सुविधा प्रदान करने, दिवंगत शिक्षक व शिक्षिकाओं के पाल्यों को शिक्षक एवं लिपिक पद पर योग्यतानुसार नियुक्त करने, शिक्षकों की बीमा राशि पांच लाख करने, समायोजन के लिए प्रदेश भर में एक प्रकार का शासनादेश जारी करने, शिक्षक-शिक्षिकाओं को केन्द्रीय शिक्षकों की भांति भत्ता दिये जाने तथा एनपीएस की बाबत उच्च न्यायालय के आदेश का अनुपालन कराये जाने आदि की मांगे शामिल हैं। धरने का संचालन महामंत्री मान सिंह यादव ने किया। इस मौके पर नवनीत मिश्रा, संतोष पटेल, अखिलेश त्रिपाठी, बृजेश द्विवेदी, विवेक पाण्डेय, राजीव उमराव, अभिषेक रमन, इन्द्रसेन, दुर्गा सिंह, हेमन्त, योगेन्द्र सहित जिले भर के शिक्षक मौजूद रहे।

0Shares
Total Page Visits: 1807 - Today Page Visits: 1

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *