पैसे के अभाव मे मदरसा शिक्षक की हुई मौत…

42 माह से  कर रहे आधुनिकरण शिक्षक फरेन्दा पैसे के अभाव मे मदरसा शिक्षक की हुई मौत
मो एहतशाम जाफ़र 
पडरौना कुशीनगर
तहसील फरेन्दा क्षेत्र के अन्तर्गत।चल रहे मदरसों के सिक्ष्कों को रूपये के अभाव मदरसा शिक्षक ने दम तोड़ दिया सरकार के भेदभाव रवैये से आये दिन मदरसा शिक्षक दम तोड रहे लगभग 42 महीने से मदरसा शिक्षको को मानदेय नही मिला है।
पैसे के आर्थिक तंगी के चलते अजमल अंसारी नौतनवां महराजगंज निवासी ने अपने जीवन की अंतिम सांस ली परिवार वालों का रो रोकर बुरा हाल होगया है। अजमल अंसारी आधुनिक शिक्षक के साथ साथ एक बेहतरीन क्रिकेटर भी था
सूत्रों के मुताबिक मिली जानकारी के अनुसार इस योजना मे अबतक 27 आधुनिक शिक्षक ने दम तोड़ दिया है। एक तरफ सबका साथ सबका विकास पर आधुनिकीकरण शिक्षको को 43 माह से नही मिला मानदेय सरकार के द्वारा हर जांच पूरी कर ली गई है यहा तक की पोर्टल के माध्यम से सभी स्कूलों को जोड दिया गया है पर मानदेय के नाम पर आनाकानी किया जारहा है
अबतक मदरसा आधुनिक शिक्षक तंगी आखिर कब तक झेलते रहेगे सरकार इस मदरसों से अनजान बनीं हुई है पूरे प्रदेश मे 25500 आधुनिक शिक्षक है।लेकिन फिर भी संज्ञान में नहीं लेरही है। सभी मदरसों के शिक्षक  भुखमरी के कगार पर पहुंच चुके हैं
0Shares
Total Page Visits: 2126 - Today Page Visits: 2

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *