पैगम्बरे इस्लाम का जन्म विश्व शांति का संदेश-कारी फरीद

फतेहपुर। काजी-ए-शहर मौलाना कारी फरीद उद्दीन कादरी ने कहा कि पैगम्बरे इस्लाम का जन्मदिन विश्व शांति का दिन है। आपने विश्व शांति व आपसी सौहार्द के लिए प्रत्येक निर्जीव व सजीव मनुष्य तथा ईश्वर के मध्य अधिकारों कर्तव्यों का एक ऐसा नाता कानूनी शक्ल में पैदा किया। जिसके सिवाए प्रेम स्वभाव की दूसरी और कोई रात बनती नहीं है। इससे बड़ी बात और क्या हो सकती है कि सम्पूर्ण जीवन में कभी किसी को मारने डाटने या प्रताड़ित करने का कोई लेख नहीं मिलता।

शहरकाजी श्री कादरी ने कहा कि पैगम्बरे इस्लाम ने सदैव गरीब, बेसहारा, असहाय, अनाथ एवं विधवा सभी की खुले दिल से बिना भेदभाव के सहायता की। आपने पति-पत्नी, स्त्री-पुरूष के अधिकारों में समानता का पाठ पढ़ाया। राजा व रंग सभी को मनुष्यता के धागे में पिरो दिया। जालिम के जुल्म को रोका मजलूम की हर संभव सहायता की। हमें चाहिए कि इम ईश्वर के शांति दूत के जन्मदिन पर खुशी मनायें। घरों को हरे परचम से सजायें। हर जरूरतमंद के काम आयें। मस्जिदों, खानकाहों, मदरसों व अपने सार्वजनिक स्थलों को सजायें और रोशन करें। नबी की सुन्नत पर चलकर बिना भेदभाव के एक दूसरे से अपनी खुशियां बांटे। बिना रंग नस्ल धर्म के भाईचारा बनायें रखने की भरपूर कोशिश करें। यह शहर यह मुल्क आपका है। धार्मिक कार्यक्रम में उन्माद नहीं बल्कि श्रद्धा से मनायें। दूसरों की धर्मिक श्रद्धा का ख्याल रखें। काजी-ए-शहर ने बताया कि जिले में दस नवम्बर को जुलूस-ए-मोहम्मदी शान के साथ उठाया जायेगा। रास्ते भर अंजुमनें नाते कलाम पेश करेंगी। जिसकी रिहर्सल भी शुरू हो गयी है।

0Shares
Total Page Visits: 4517 - Today Page Visits: 1

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *