पिछड़ा वर्ग की मीटिंग  संपन्न  भर/राजभर को शासनादेश के अनुसार प्रमाण पत्र जारी करने  का लिया गया निर्णय

Breaking news concept over spinning globe. 4K resolution.

पिछड़ा वर्ग की मीटिंग  संपन्न  भर/राजभर को शासनादेश के अनुसार प्रमाण पत्र जारी करने  का लिया गया निर्णय
  सुल्तानपुर आज दिनाँक 19/02/2020को विकास भवन सुल्तानपुर में सीडीओ सुल्तानपुर की अध्यक्षता में जाति प्रमाणपत्र जारी किए जाने के संबंध में बैठक संपन्न  हुई आपको बताते चलें कि जाति प्रमाणपत्र के प्रकरण को लेकर पूर्व की भांति प्रमाणपत्र जारी किए जाने को लेकर लगभग 2 वर्षों से एस डी एम/तहसीलदार, कादीपुर की अनैतिक रूप से हठवादिता के कारण ओ बी सी /विमुक्त जाति की सूची में (स्टेट/सेंट्रल लिस्ट)अंकित मूल जाति भर Bhar के नाम से जाति प्रमाणपत्र न दिए जाने को लेकर तहसील कादीपुर के विभिन्न ग्रामों में  निवासरत भर/राजभर के लोगों खासतौर से श्री चन्द्रपाल राजभर , की शिकायत पर इस  प्रकरण को जिला प्रशासन, तथा शासन स्तर पर प्रामाणिक अभिलेखों के साथ प्रभावी पैरवी करने के पश्चात उ प्र  शासन द्वारा मा उच्च न्यायालय के आदेश के अनुपालन के क्रम में जिलाधिकारी सुल्तानपुर की अध्यक्षता में गठित( संवैधानिक) जिला सत्यापन कमेटी (डी एम,ए डी एम( एफ/आर),एस डी एम सदर,,जिला पिछड़ावर्ग कल्याण अधिकारी,तथा जिला सूचनाधिकारी/जिला अर्थ एवं सांख्यिकी अधिकारी तथा समाज की तरफ से वादी डॉ पंचम राजभर) की उपस्थिति में तमाम प्रामाणिक प्रपत्र,/रिकार्ड, शासनादेश, आदि का तथ्यात्मक बहस के कारण आज दिनाँक 19 फरवरी 2020 को जिला मुख्यालय सुल्तानपुर में  विकास भवन में सी डी ओ की अध्यक्षता में गुण दोष पर विन्दुवार तर्कसंगत रूप से प्रमाणों के आधार पर  विचार विमर्श के पश्चात समिति द्वारा सर्वसम्मति से निर्णय लिया गया कि समस्त तहसीलदार गण शासनादेश दिनाँक 25 अप्रैल 2000 के अक्षरशः अनुपालन में क्रमांक 37 पर अंकित भर,राजभर जाति जो कि शासनादेश व अभिलेखों के अनुसार एक ही है जिसे पूर्व की भांति प्रमाणपत्र जो जारी होता था उसको यथावत जिसका आवेदन किया जाय अर्थात भर या राजभर का आवेदन करने पर नियमानुसार जाति प्रमाणपत्र निर्गत किया जाय
तथा प्रत्येक दशा में शासनादेश का अनुपालन सुनिश्चित हो !समिति के उक्त के आदेश की प्रति जिलाधिकारी महोदया द्वारा अविलम्ब तत्संबंधित को उपलब्ध करा दी जाएगी ! मुझे प्रसन्नता है कि लोकतांत्रिक परम्पराओं में निहित प्राविधानों के तहत जिला स्कूटनिंग कमेटी द्वारा निष्पक्ष न्यायसंगत कार्यवाही की गई ! फिर भी लगभग 2 वर्ष तक शासन/प्रशासन को गुमराह कर इस समाज के संवैधानिक अधिकारों का हनन करने वाले दोषी लोगों के विरुद्ध नियमानुसार उचित फोरम पर समाज द्वारा  अतिशीघ्र कार्यवाही सुनिश्चित की जाएगी जिससे कि इसतरह की पुनरावृत्ति अन्यत्र न हो ! लेकिन दुःख है कि राजभर समाज के हितैषी बनने वाले माननीय जनप्रतिनिधिगण चाहे मा मंत्री ,मा सांसद, मा विधायक वर्तमान अथवा पूर्व हों तथा सामाजिक संगठन, या समाजसेवी गण क्षेत्रीय या अन्यत्र  के (कुछ को छोड़कर) प्रायः बिना किसी कारण के सम्भवतः विद्वेषवश नकारात्मक रवैया या मौन रहे ! लेकिन आभारी हूँ श्री एम बी राजभर जी कैप्टन (Retd) श्री सुरेश राजभर ढड़वारा डॉ प्रमोद राजभर जी रानीमऊ,पिंटू राजभर नौली, गुड्डू राजभर प्रधान, चन्द्रकान्त राजभर राकेश राजभर अध्यापक अरुण राजभर प्रधान अहीरों, श्री बृजेश राजभर पूर्व प्रधान, आदि सभी लोगों का वांछनीय सहयोग के लिए (सभी महानुभाव खेतासराय क्षेत्र)तथा तहसील कादीपुर के ,स्थानीय स्तर पर तहेदिल से धन्यवाद दूँगा  अनुज श्री चन्द्रपाल राजभर विजुअल आर्टिस्ट (अध्यापक) श्री  राजमणि राजभर अध्यापक ,श्री रामचन्द्र राजभर अध्यापक,,श्री रामदेव राजभर अध्यापक,श्री हरिशंकर राजभर अध्यापक, श्री छोटेलाल राजभर प्रधान, श्री महेंद्र राजभर प्रधान,श्री जगदीश राजभर प्रधान,रमेश राजभर प्रधान,श्री लालजीत,श्री हरिश्चन्द्र ,श्री सहेबराज ,श्री मुन्ना राजभर,सुरेश राजभर,हौसिला राजभर,अनिल राजभर,नवींन राजभर,दीपू आद
0Shares
Total Page Visits: 1708 - Today Page Visits: 1

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *