दावा करती रही सरकार और गरीब ने दम तोड़ दिया …

यूपी के बलिया में नरही थाना क्षेत्र के कोर्ट मझरिया गांव में एक युवक आर्थिक तंगी से खुद को फांसी लगा कर मौत को गले लगा लिया। परिजनों की माने तो युवक 6 वर्षों से बीमार चल रहा था इलाज के लिए पैसे ना होने के कारण उसने खुद को फांसी लगा ली। घर में 02 छोटे बच्चे और पत्नी के साथ रहता था युवक। किसी तरह अपना जीवन यापन कर रहा था। आर्थिक तंगी के कारण घर मे दो वक्त की रोटी की भी बड़ी मुश्किल से आती थी । मुहल्ले वालो की मदद से युवक के घर जलता था चूल्हा। योगी सरकार में सरकारी योजनाएं नही पहुचीं थी गरीब के घर तक। मृतक की पत्नी की माने तो कई बड़े नेताओं के दरवाजे मदद के लिए खटखटा चुकी थी पर उसे निराशा के सिवा कुछ हाथ ना लगा। गरीबी दूर करने वाली सरकार की आंखों के सामने आर्थिक तंगी से युवक ने दम तोड़ दिया। दावा करती रही  सरकार दम तोड़ता रहे इन्सान। परिजनों की माने तो युवक हमेशा कहता था कि कब तक हमारी कोई मदद करेगा हर महीने इलाज में हजारों रुपए खर्च हो जाते हैं। अपनी इन्हीं परेशानियों को खत्म करने के लिए युवक ने फांसी पर लटकने का रास्ता चुना और खुद मौत की नींद सो गया अपने पीछे छोड़ गया तो गरीबी अपनी पत्नी और दो मासूम बच्चों को। मृतक के बच्चों की माने तो जब हम फूल तोड़ने पहुचे तो देखा पापा फंदे से लटक रहे है । बच्चो के सोर सुन बाकी लोग भी आये और पुलिस को सूचना दी ।मौके पर पहुचीं स्थानीय पुलिस विधिक कार्रवाई कर जांच में जुट गई है। वही मृतक की पत्नी और बच्चों का रो – रो कर बुरा हाल है  यहां तक मृतक की पत्नी इस सदमे को बर्दाश्त नहीं कर पाई जिससे उसकी तबीयत खराब हो गई और ग्रामीणों ने तुरंत जिला चिकित्सालय बलिया लाया जहां उसकी इलाज चल रही है।

0Shares
Total Page Visits: 1632 - Today Page Visits: 1

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *