जिला योजना की बैठक में साढ़े चार अरब से अधिक की धनराशि विकास के लिए अनुमोदित

 बैठक में योजनाओं का खींचा गया खाका, होगा चहुमुखी विकास
 जनपद के विकास से प्रदेश सरकार के अन्त्योदय का सपना होगा साकार-रामनरेश
 जिला योजना की बैठक में भाग लेते प्रभारी मंत्री व अन्य जनप्रतिनिधि तथा अधिकारी 
फतेहपुर। जिले के चहुमखी विकास के लिए विकास भवन के सभागार में जिला योजना समिति की बैठक आहूत की गयी। जिसमें उपस्थित जनप्रतिनिधियों व अधिकारियों ने योजनाओं का खाका खींचने का काम किया। विभिन्न परियोजनाओं के लिए साढ़े चार अरब से अधिक की धनराशि विकास के लिए सर्वसम्मति से अनुमोदित की गयी। बैठक को सम्बोधित करते हुए जनपद के प्रभारी व प्रदेश सरकार के आबकारी एवं मद्य निषेध विभाग के मंत्री रामनरेश अग्निहोत्री ने कहा कि जनपद का चहुमुखी विकास कराना ही प्राथमिकता है। जिले के विकास से प्रदेश सरकार के अन्त्योदय का सपना साकार होगा।
सोमवार को जिले के प्रभारी मंत्री राम नरेश अग्निहोत्री की अध्यक्षता में वर्ष 2020-21 जिला योजना समिति की बैठक आयोजित की गयी। उन्होने जिला योजना की समिति के सदस्यों का अभिनन्दन करते हुए कहा कि आज जो जिला योजना प्रस्तावित थी वह जनपद के विकास के लिये अनुमोदित की गयी है। इस योजना से जनपद का विकास होगा और प्रदेश सरकार के अन्त्योदय का सपना साकार होगा। उन्होने अध्किारियों से कहा कि जनपद के उत्थान के लिये पुनः प्रयास करना होगा जो धनराशि अनुमोदित की गयी है उसके सापेक्ष मिलेगी। उसका सदुपयोग करके विकास कार्यो में लगाया जाय। कहा कि एक अच्छी जिला योजना का प्रस्तुतीकरण किया है जिसमें जनपद का चहुमुखी विकास होगा। बैठक के दौरान कृषि में रू0 32.00 लाख, लघु एवं सीमांत कृषको को सहायता रू0 01.01 लाख, पशुपालन रू0 260.13 लाख, दुग्ध विकास रू0 215.15 लाख, सहकारिता रू0 106.09 लाख, वन रू0 374.43 लाख, ग्राम्य विकास 1300.85 लाख, सामुदायिक विकास (ग्राम्य विकास) 50.00 लाख, मनरेगा योजना रू0 15166.77 लाख, पंचायती राज रू0 87.30 लाख, राजकीय लघु सिंचाई रू0 315.39 लाख, निजी लघु सिंचाई रू0 2644.66 लाख, अतिरिक्त ऊर्जा श्रोत रू0 94.66 लाख, खादी एवं ग्रामोद्योग रू0 05.00 लाख, रेशम उद्योग रू0 06.50 लाख, सड़क एवं पुल रू0 3106.26 लाख, पर्यावरण रू0 2.00 लाख, पर्यटन रू0 100.00 लाख, प्राथमिक शिक्षा रू0 1224.21 लाख, माध्यमिक शिक्षा रू0 212.00 लाख, खेलकूद रू0 145.00 लाख, प्राविधिक शिक्षा रू0 25.00 लाख, प्रादेशिक विकास दल रू0 03.82 लाख, ऐलोपैथिक चिकित्सा रू0 493.72 लाख, परिवार कल्याण रू0 600.00 लाख, आयुर्वेदिक रू0 59.10 लाख एवं यूनानी रू0 37.05 लाख , होम्योपैथिक चिकित्सा रू0 124.95 लाख, ग्रामीण स्वच्छता रू0 2400.00 लाख, ग्रामीण आवास रू0 7800.00 लाख, नगर विकास रू0 628.40 लाख, अनु0जाति कल्याण विभाग रू0 319.00 लाख, पिछडा जाति कल्याण रू0 397.03 लाख, अल्पसंख्यक कल्याण रू0 100.12 लाख, समाज कल्याण-सामान्य जाति रू0 123.00 लाख, सेवायोजन रू0 01.28 लाख, शिल्पकार प्रशिक्षण रू0 318.72 लाख, समाज कल्याण रू0 1483.00 लाख, दिव्यांग सशक्तीकरण रू0 127.40 लाख एवं महिला कल्याण रू0 180.00 लाख कुल 406671.00 के परिव्यय को सर्वसम्मति से अनुमोदित किया गया। बैठक को सम्बोधित करते हुए जिलाधिकारी संजीव सिंह ने कहा कि जिला योजना जो प्रस्तावित थी उसका प्रभारी मंत्री व समिति के सदस्यों द्वारा अनुमोदित किया गया है। बैठक में जो भी समस्याएं आयी है अधिकारीगण त्वरित कार्यवाही करके समस्याओं को निराकरण करते हुए जनप्रतिनिधियों को भी सूचित करें। बैठक में खाद्य एवं रसद तथा नागरिक आपूर्ति राज्यमंत्री रणवेन्द्र प्रताप सिंह उर्फ धुन्नी सिंह, जिला पंचायत अध्यक्ष डा0 निवेदिता सिंह, सदर विधायक विक्रम सिंह, विधायक अयाह शाह विकास गुप्ता, विधायक खागा कृष्णा पासवान, बिन्दकी विधायक करन सिंह पटेल, पूर्व जिलाध्यक्ष भाजपा प्रमोद द्विवेदी, पुलिस अधीक्षक प्रशांत वर्मा, मुख्य विकास अधिकारी सत्य प्रकाश, जिला विकास अधिकारी रमेश चन्द्रा, पीडी ए0के0निगम, जिला अर्थ एवं संख्याधिकारी जोगेन्द्र यादव, जिला सूचना अधिकारी आर0एस0वर्मा, अधिशाषी अभियन्ता विद्युत, पीडब्लूडी, जल निगम एवं जिला योजना समिति के सम्मानित सदस्य उपस्थित रहें।

0Shares
Total Page Visits: 467 - Today Page Visits: 1

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *