जालौन में एक कोटेदार ने फांसी लगाकर की आत्महत्या

जालौन में एक कोटेदार ने फांसी लगाकर आत्महत्या कर ली। म्रतक ने आत्महत्या से पूर्व एक सुसाइड नोट भी छोड़ा है। जिसमे उसने सप्लाई इंस्पेक्टर द्वारा प्रताड़ित करने का आरोप लगाया है। मामले की सूचना पर पहुंचे एसडीएम व पुलिस ने जांच पड़ताल शुरू की है। 
मामला कालपी कोतवाली क्षेत्र के रामपुर गांब का है। जहां के निवासी कोटेदार रणधीर सिंह ने रविवार की शाम फांसी लगाकर आत्महत्या कर ली। मामले की सूचना म्रतक के परिजनों ने पुलिस को दी। सूचना पर पहुंची पुलिस ने मौके से एक सुसाइड नोट भी बरामद किया है। जिसमे म्रतक ने क्षेत्र के सप्लाई इंस्पेक्टर पर गाली गलौच कर उत्पीड़न का आरोप लगाया है। वहीं म्रतक के भाई का आरोप है कि सप्लाई इंस्पेक्टर ने राशन बांटने को लेकर क्षेत्र के सप्लाई इंपेक्टर ने उसके भाई को जमकर खरी खोटी सुनाई थी। जबकि उसका भाई गांव में प्रधान की देखरेख में पूरी ईमानदारी से राशन बांटने का कार्य करता था। सप्लाई इंपेक्टर द्वारा पिछले पांच दिनों से किये जा रहे उत्पीड़न को उसका भाई बर्दास्त नहीं कर सका जिस कारण उसने आत्महत्या कर ली। 
वहीं मामले को लेकर कालपी सीओ का कहना है कि म्रतक में शव को पोस्टमार्टम के लिए भेजा गया है। वहीं म्रतक के भाई ने जो आरोप लगाए हैं पूरे मामले की जांच की जा रही है। वहीं मामले को लेकर जिला पूर्ति अधिकारी का कहना है कि कोटेदार द्वारा राशन वितरण की जांच की जा रही थी। जिसमे सामने आया था कि कोटेदार द्वारा ग्रामीणों के  अंगूठे तो लगवा लिए गए थे। लेकिन राशन वितरण नहीं किया गया था। साथ ही गोदाम से खाद्यान भी गायब था। मामले के दूसरे दिन कोटेदार ने फांसी लगाकर आत्महत्या कर ली। मौके से सुसाइड नोट नहीं मिला था। बाद में म्रतक के परिजनों ने पूर्ति निरीक्षक पर आरोप लगाते हुए सुसाइड नोट दिया है। मामले की जांच की जा रही है।
0Shares
Total Page Visits: 909 - Today Page Visits: 1

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *