घर में लगी आग से दो बच्चियों की जलकर मौत

 चूल्हा चौकी का खेल परिवार के लिए बना काल
एसपी व राजस्व टीम ने घटनास्थल का किया मुआयना
जलता हुआ घर
फतेहपुर। चूल्हा चौकी का खेल दो बच्चियों की जिन्दगी के लिए काल बन गया। चूल्हे की निकली चिंगारी ने पूरे घर को चपेट में ले लिया। आग से बचने के लिए दोनों बच्चियां घर के अंदर छिप गयी। जलता हुआ छप्पर दोनों बच्चियों के ऊपर ढह गया। छप्पर के नीचे दबकर दोनों बच्चियों की जलकर मौत हो गयी। इस अग्निकाण्ड में पूरी गृहस्थी के साथ-साथ दो बकरियां भी जलकर मर गयी हैं। घटना की जानकारी होने पर आला अधिकारियों ने मौके पर पहुंचकर परिजनों को सांत्वना देने के साथ-साथ मुआवजा दिलाये जाने का आश्वासन दिया।
जानकारी के अनुसार मलवां थाना क्षेत्र के चितौरा गांव निवासी स्व0 ननका की 6 वर्षीय पुत्री श्वेता व विजय की 4 वर्षीय पुत्री रजनी रिश्ते में बुआ-भतीजी हैं। हमजोली होने के चलते रविवार की दोपहर दोनों बच्चियां चूल्हा चौकी का खेल खेल रही थी। तभी अचानक चूल्हे की निकली चिंगारी से घर में आग लग गयी। दहशत के चलते श्वेता व रजनी घर के अंदर घुस गयी। देखते ही देखते आग ने विकराल रूप धारण कर लिया और जलता हुआ छप्पर दोनों बच्चियों के ऊपर गिर गया। जिसमें दबकर घटनास्थल पर ही दोनों की दर्दनाक मौत हो गयी। घटना में दो बकरियां भी जलकर मर गयी हैं। घटना के वक्त परिजन खेतों की ओर गये थे। आस-पास के लोगों ने आनन-फानन आग बुझाने के प्रयास शुरू किये और जानकारी परिजनों को दी। घटना की जानकारी मिलते ही परिजन भी मौके पर आ गये और आग बुझाने के प्रयासों में जुट गये। इस वीभत्स अग्निकाण्ड की जानकारी मिलते ही फायर ब्रिगेड की टीम भी मौके पर पहुंची। जब तक आग पर काबू पाया गया तब तक पूरी गृहस्थी जलकर खाक हो गयी। अग्निकाण्ड की जानकारी मिलने पर पुलिस अधीक्षक प्रशांत वर्मा, उप जिलाधिकारी सदर प्रमोद झा, पुलिस उपाधीक्षक नगर केडी मिश्रा पुलिस बल व राजस्व टीम के साथ मौके पर पहुंचे। रोते-बिखते परिजनों को सांत्वना देने के साथ ही मुआवजा दिलाये जाने का परिजनों को आश्वासन दिया। राजस्व टीम ने नुकसान का आंकलन किया। दो बच्चियों की एक साथ मौत होने से परिजनों के बीच कोहराम मच गया। पुलिस ने शवों को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेजा है।

0Shares
Total Page Visits: 599 - Today Page Visits: 6

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *