गाज़ीपुर में ज़मीनी विवाद में ये क्या ?

गाज़ीपुर ! सेवराई। तहसील क्षेत्र के सेवराई गांव के करवनिया डेरा में जमीनी विवाद के कारण दरवाजा के सामने खड़ी दीवाल को उपजिलाधिकारी सेवराई विक्रम सिंह ने, क्षेत्रधिकारी जमानिया सहित छः थानों की पुलिस फोर्स के साथ राजस्व अधिकारियों की मौजूदगी में ढहाई। इसके साथ ही सम्बंधित के खिलाफ शांति भंग का मुकदमा पंजीकृत करते हुये जेल भेजा।
जानकारी अनुसार गहमर थाना क्षेत्र के सेवराई गांव के करवनिया डेरा निवासी शैलेन्द्र बिंद ने बीते 19 जून को उपजिलाधिकारी एवं जिलाधिकारी को पत्रक देते हुए पड़ोसी रोहित बिन्द के खिलाफ अपने दरवाजे के आगे दीवाल खड़ी कर मड़ई डालकर आवागमन बन्द करने का आरोप लगाते हुए न्याय की गुहार लगाई थी। पीड़ित शैलेंद्र बिन्द ने बताया कि दरवाजा बंद होने के कारण परिवार के लोगो को दूसरे के घर के लकड़ी के सीढ़ी के सहारे घर मे आना जाना पड़ रहा है। जबकि घर मे रखे पशु और उनकी 80 वर्ष बूढ़ी मा पिछले दस दिनों से घर के अंदर ही बन्द हैं। मामले को गम्भीरता से लेते हुए उपजिलाधिकारी विक्रम सिंह ने दोनों पक्षो को बुलाकर दीवाल हटाते हुए नियम से कार्यवाई के लिए प्रार्थना पत्र देने की बात कही थी। उपजिलाधिकारी के निर्देश के वावजूद शनिवार तक दीवाल नही हटाया गया था। रविवार को क्षेत्राधिकारी जमानिया कुल भूषण ओझा, गहमर, रेवतीपुर, सुहवल, जमानिया, दिलदारनगर, नगसर सहित छ थानों की भारी पुलिस बल और राजस्व अधिकारियों के साथ मौके पर पहुँच कर मड़ई और दीवाल को तुड़वाया। पीड़ित को आवागमन करने के लिए रास्ता दिलाया। इस कार्यवाई के दौरान परिवार की महिलाएं शोर मचाती रही जिन्हें महिला पुलिस कर्मियों द्वारा फटकार लगाकर शांत कराया गया। दीवाल खड़ी करने वाले दबंग रोहित बिंद को शांति भंग में गिरफ्तार करते हुए चालान कर जेल भेज दिया गया।
इस बाबत उपजिलाधिकारी सेवराई विक्रम सिंह ने बताया कि करवनिया डेरा निवासी शैलेंद्र बिन्द के प्रार्थना पत्र पर कार्यवाई करते हुए छः थानों की भारी पुलिस फोर्स के साथ क्षेत्राधिकारी जमानिया और राजस्व अधिकारियों की मौजूदगी में मड़ई को हटाते हुए दीवाल तुड़वाया गया है। और पीड़ित को रास्ता दिलाया गया।
0Shares
Total Page Visits: 2348 - Today Page Visits: 1

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *