गरीबों के निवाला से किसी भी कीमत पर छेड़छाड़ बर्दाश्त नही की जायेगी…….जिलाधिकारी आज़मगढ़ !

आजमगढ़ 01 अगस्त– राष्ट्रीय खाद्य सुरक्षा अधिनियम के अन्तर्गत सार्वजनिक वितरण प्रणाली को पारदर्शी एवं सुदृढ़ बनाये जाने के उद्देश्य से समस्त उप जिलाधिकारी, विपणन तथा आपूर्ति शाखा तथा कोटेदार संघ के सदस्यों के साथ जिलाधिकारी नागेन्द्र प्रसाद सिंह की अध्यक्षता में विकास भवन के सभागार में समीक्षा बैठक सम्पन्न हुई।
इस अवसर पर जिलाधिकारी ने सभी को निर्देशित करते हुए कहा कि गरीबों के निवाला से किसी भी कीमत पर छेड़छाड़ बर्दाश्त नही की जायेगी, तथा दोषी पाये जाने पर संबंधित के खिलाफ कड़ी से कड़ी कार्यवाही की जायेगी। जिलाधिकारी द्वारा समीक्षा के दौरान डिप्टी आरएमओ के द्वारा मार्केटिंग गोदाम का निरीक्षण कर इलेक्ट्रानिक कांटों से वजन कर खाद्यान्न वितरण न कराये जाने पर स्पष्टीकरण लेने तथा सभी संबंधित मार्केटिंग इंस्पेक्टरों को कारण बताओ नोटिस जारी करने के निर्देश दिये।
उन्होने डीएसओ तथा कोटेदार संघ के सदस्यों से कहा कि खाद्यान्न का वितरण लाभार्थी को ज्यादा से ज्यादा ई-पॉस मशीन के द्वारा करायी जाय। आगे उन्होने कहा कि कोटेदार का कार्य एक व्यावसायिक प्रतिष्ठान नही है, कोटेदार यह न समझें कि गरीबों को दिये जाने वाला खाद्यान्न आय का माध्यम है।
जिलाधिकारी द्वारा ई-पॉस एजेन्सी के संबंधित अधिकारियों को निर्देशित करते हुए कहा कि कोटेदारों के यहॉ ई-पॉस मशीन खराब पायी जाये तो उसको जल्द से जल्द ठीक करायें, यह आपकी जिम्मेदारी है, जिससे ज्यादा से ज्यादा पात्र व्यक्तियों को खाद्यान्न वितरण ई-पॉस मशीन के द्वारा किया जा सके। अपने कार्यां में किसी भी प्रकार की लापरवाही न करें।
जिलाधिकारी ने डीएसओ से कहा कि जिस राशन कार्ड से यूनिटों की संख्या कट गयी है तथा जो राशन कार्ड कटे हैं, उसकी जॉच करें तथा सही पाये जाने पर उसको ठीक कराना सुनिश्चित करें।
उन्होने डीएसओ को निर्देशित करते हुए कहा कि कोटेदार जब खाद्यान्न का उठान कर लिया हो, तो खाद्यान्न कोटेदार के पास पहुॅचा है कि नही, इसकी भी जॉच करें तथा कोटेदार के पास खाद्यान्न पहुॅचने तथा उसका वितरण होने के बाद वितरण रजिस्टर तथा स्टॉक रजिस्टर का भी मिलान करें। इसी के साथ ही साथ वितरण रजिस्टर से रैण्डम आधार पर चिन्हित किये गये पात्र लाभार्थियों को दिये गये खाद्यान्न वितरण का भौतिक सत्यापन करें, यदि कहीं कोई कमी पायी जाती है तो कार्यवाही करना सुनिश्चित करें।
जिलाधिकारी ने समस्त उप जिलाधिकारियों को निर्देशित करते हुए कहा कि अपने संबंधित तहसील क्षेत्रों में कोटेदार, आपूर्ति निरीक्षक के साथ बैठक करें तथा खाद्यान्न वितरण के समय मौके पर जाकर निरीक्षण भी करें।
इस अवसर पर समस्त उप जिलाधिकारी, डीएसओ, डिप्टी आरएमओ, समस्त संबंधित आपूर्ति निरीक्षक, मार्केटिंग निरीक्षक, कोटेदार संघ के सदस्य सहित अन्य संबंधित अधिकारी/कर्मचारी उपस्थित रहे।

0Shares
Total Page Visits: 1181 - Today Page Visits: 1

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *