केन्द्र व प्रदेश सरकारों के खिलाफ संघर्ष कर रही सिर्फ प्रसपा- अरविन्द यादव

 प्रभारी ने धरना प्रदर्शन की तैयारियों का लिया जायजा
 ऐतिहासिक होगा नहर कालोनी में धरना-जगनायक
 बैठक को सम्बोधित करते प्रदेश सचिव रामशरण यादव
फतेहपुर। बेरोजगारी, महंगाई व भ्रष्टाचार सहित विभिन्न जन समस्याओं को लेकर प्रसपा के राष्ट्रीय आहवान पर प्रदेश के जिला मुख्यालयों पर प्रस्तावित 18 सितम्बर के धरना प्रदर्शन की अब तक जिला संगठन द्वारा की गयी तैयारियों का पार्टी के प्रदेश सचिव/जिले के प्रभारी अरविन्द यादव ने बिन्दुवार समीक्षा की। उन्होने धरना-प्रदर्शन की सफलता के लिए भारी तादाद में भीड़ इकट्ठा करने का मंत्र दिया। प्रभारी ने कहा कि केन्द्र व प्रदेश सरकार के खिलाफ सिर्फ और सिर्फ प्रगतिशील समाजवादी पार्टी (लोहिया) ही संघर्ष कर रही है। जबकि अन्य सभी विपक्षी दल खामोश हैं।
प्रसपा की महत्वपूर्ण बैठक संगठन के जिलाध्यक्ष जगनायक सिंह यादव के आवास पर गुरूवार को आहूत की गयी। जिसमें बड़ी संख्या में मुख्य संगठन सहित फ्रन्टल संगठनों के पदाधिकारियों ने शिरकत की। बतौर मुख्य अतिथि जिले के प्रभारी एवं प्रदेश सचिव अरविन्द यादव भी मौजूद रहे। 18 सितम्बर को प्रस्तावित केन्द्र व प्रदेश सरकारों की गलत नीतियों के विरोध में प्रदर्शन में भीड़ जुटाने की अब तक की गयी तैयारियों की प्रभारी ने समीक्षा की। प्रभारी ने कार्यकर्ताओं में जोश भरते हुए कहा कि लोकसभा चुनाव की हार को भूलकर पदाधिकारी व कार्यकर्ता प्रदर्शन को सफल बनाने में जुट जायें। क्योंकि सफल प्रदर्शन ही प्रशासन व शासन को हिला सकता है। उन्होने कहा कि पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष शिवपाल सिंह यादव संघर्षों की प्रतिमूर्ति हैं। उन्हें किनारे लगाते ही सपा धरातल पर आ गयी है। इतना ही नहीं केन्द्र व प्रदेश सरकारों की गलत नीतियों के प्रति प्रसपा छोड़ विपक्षी दलों की चुप्पी उचित नहीं है। बैठक को सम्बोधित करते हुए प्रदेश सचिव रामशरण यादव ने बिजली दरों में की गयी मूल्य वृद्धि की व्याख्या करते हुए कहा कि इस वृद्धि से औद्योगिक घरानों पर पांच प्रतिशत का भार डाला गया है। जबकि किसानों पर तीन गुना अर्थात पन्द्रह फीसदी बोझ लादकर भाजपा सरकारों ने किसान विरोधी होने का सबूत दिया है। अध्यक्षता करते हुए जिलाध्यक्ष जगनायक सिंह यादव ने प्रभारी को विश्वास दिलाया कि धरना-प्रदर्शन में बड़ी संख्या में समर्थक शामिल होंगे। जिसके चलते यह धरना-प्रदर्शन ऐतिहासिक होगा। अन्य वक्ताओं ने कहा कि वाहन चेकिंग की आड़ में गरीब लोगों का उत्पीडन किया जा रहा है। कार्यकर्ताओं में जोश भरते हुए लोहिया जी के सिद्धान्तों की याद दिलायी गयी। कहा कि तीन सवारी मिलने पर यदि पुलिस चालान काटे तो उससे तर्क-वितर्क करते हुए पूछे कि रोडवेज की बसों में ओवर लोडिंग तथा ट्रेनों की 80 सीट वाले कम्पार्टमेन्ट में दो सौ यात्री यात्रा क्यों करते हैं। इतना ही नहीं उत्पीड़न के विरोध में चेकिंग स्थल पर ही धरने पर बैठ जायें। बैठक का संचालन जिला महासचिव धर्मेन्द्र सिंह भदौरिया ने किया। इस मौके पर सुरेन्द्र सिंह परिहार, राजेश चौधरी, अजहर हुसैन, परवेज अहमद, वीरेन्द्र निषाद, ओम प्रकाश यादव एडवोकेट, हिमांशु, महमूद अहमद, मनोज कुमार, रवीन्द्र प्रताप सिंह, मुजाहिद हसन, पिन्टू यादव, प्रकाश चन्द्र, इमरान, मो0 मोहसिन, अभिषेक कुमार सहित बड़ी संख्या में पार्टीजन रहे।

0Shares
Total Page Visits: - Today Page Visits:

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *