कानून व्यवस्था एवं महंगाई को लेकर शहर कांग्रेसियों ने किया प्रदर्शन

 एडीएम के माध्यम से राज्यपाल को भेजा पांच सूत्रीय ज्ञापन
 ज्ञापन देने के लिए खड़े कांग्रेसी
फतेहपुर। प्रदेश की बद से बदतर कानून व्यवस्था, दिनों दिन बढ़ रही महंगाई व चरमरायी विद्युत व्यवस्था को लेकर शहर कांग्रेस कमेटी के पदाधिकारियों ने कलेक्ट्रेट पर प्रदर्शन किया। तत्पश्चात राज्यपाल को सम्बोधित पांच सूत्रीय ज्ञापन अपर जिलाधिकारी को सौंपकर पदाधिकारियों ने कहा कि यदि मांगे समय पर पूरी न की गयी तो कांग्रेसी सड़कों पर उतरकर आन्दोलन करने के लिए विवश हो जायेंगे।
शहर कांग्रेस कमेटी के अध्यक्ष मो0 आरिफ गुड्डा के नेतृत्व में कांग्रेसी नारेबाजी करते हुए कलेक्ट्रेट पहुंचे। जहां केन्द्र एवं प्रदेश सरकार के खिलाफ जमकर प्रदर्शन किया। प्रदर्शनकारियों का कहना रहा कि केन्द्र सरकार महंगाई पर नियंत्रण नहीं कर पा रही है। प्रदेश सरकार द्वारा भी डीजल एवं पेट्रोल के दामों में बढ़ोत्तरी कर दी गयी। जिसका सीधा असर मध्यम वर्ग के लोगों पर पड़ेगा। प्रदेश की कानून व्यवस्था भी बद से बदतर हो गयी है। प्रदेश में कानून का नहीं बल्कि गुण्डाराज कायम है। इसके साथ-साथ प्रदेश में विद्युत व्यवस्था भी चरमरायी हुयी है। राज्यपाल को सम्बोधित पांच सूत्रीय मांगों का ज्ञापन अपर जिलाधिकारी को सौंपकर प्रदेश सरकार द्वारा डीजल एवं पेट्रोल के दामों में की गयी बढ़ोत्तरी को वापस लिये जाने की मांग उठायी। कांग्रेसियों ने कहा कि प्रदेश के साथ-साथ जनपद में कानून व्यवस्था को लेकर आम जनता परेशान है। पुलिस द्वारा रात्रि गश्त नहीं किया जा रहा है। जिससे चोरी आदि अपराध बढ़ रहे हैं। प्रतिदिन शहर में चार पांच स्थानों पर चोरी की वारदातें हो रही हैं। पुलिस द्वारा कोई ठोंस कार्रवाई भी नही की जा रही है। अपराध की रोकथाम एवं पीड़ित पक्षकारों की प्राथमिकी दर्ज कर आवश्यक कानूनी कार्रवाई की जाये। बताया कि जिला अस्पताल की स्थिति बेहद दयनीय है। चिकित्सकों की अनुपलब्धता के कारण मरीजों का समुचित इलाज नहीं हो रहा है। रेडियोजालिस्ट का पद पिछले काफी समय से रिक्त है। जब से भाजपा सरकार प्रदेश में बनी है जिला चिकित्सालय की चिकित्सीय व्यवस्था चरमरा गयी है। तत्काल अस्पताल में चिकित्सकीय व्यवस्था दुरूस्त की जाये। जनपद में अंधाधुंध बिजली कटौती एवं गलत बिलों के आधार पर वसूली को रोका जाये और ऐसे कर्मचारियों पर समुचित कार्रवाई सुनिश्चित की जाये। सत्ताधारी दल के लोगों के दबाव में फर्जी मुकदमें दर्ज कराकर लोगों को प्रताड़ित किये जाने पर भी रोक लगायी जाये। कांग्रेसियों ने कहा कि यदि इन मांगों पर जल्द ही विचार करके निस्तारण न किया गया तो शहर कांग्रेसी सड़कों पर उतरकर वृहद आन्दोलन करने के लिए विवश हो जायेंगे। जिसकी जिम्मेदारी शासन एवं जिला प्रशासन की होगी। इस मौके पर महेश द्विवेदी, राजकुमार मौर्य एडवोकेट, ओम प्रकाश गिहार, कैलाश द्विवेदी, अरूण जायसवाल, पंकज सिंह गौतम, एहतेशाम अली, बृजेश मिश्रा, शहाब अली, आदित्य श्रीवास्तव, चौधरी मोईन राईन सहित तमाम कांग्रेसी मौजूद रहे।

0Shares
Total Page Visits: 1582 - Today Page Visits: 1

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *