कांग्रेस कार्यकर्ताओं का सरकार कर रही दमन- अखिलेश

 प्रदेश अध्यक्ष की रिहाई व कार्यकर्ताओं पर दर्ज मुकदमे वापस लेने की मांग
लॉकडाउन में प्रवासी श्रमिकों के लिये कांग्रेस कार्यकर्ता पहुँचा रहे राशन
 पत्रकारों से बातचीत करते कांग्रेस जिलाध्यक्ष अखिलेश पाण्डेय
फतेहपुर। प्रवासी मजदूरों की मदद किये जाने पर प्रदेश सरकार द्वारा विधायक एवं कांग्रेस पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष अजय कुमार लल्लू को गिरफ्तार किया जाना सरकार की निरंकुशता का प्रतीक है। कांग्रेस पार्टी सरकार की इन नीतियों से डरकर प्रवासी मजदूरों के लिये काम करना हरगिज बन्द नही करेगी बल्कि मजदूरों के लिये किये जा रहे कार्यों को आगे भी जारी रखा जायेगा। प्रदेश अध्यक्ष की रिहाई के लिये कानूनी लड़ाई लड़ी जायेगी। उक्त बातें कांग्रेस जिलाध्यक्ष अखिलेश पाण्डेय द्वारा पत्रकारों से रूबरू होते हुए कही।
मंगलवार को बुलेट चौराहा स्थित पार्टी कार्यालय में आयोजित पत्रकार वार्ता के दौरान जिलाध्यक्ष अखिलेश पाण्डेय ने बताया कि कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी द्वारा महानगरों से पैदल वापस गांव लौट रहे प्रवासी मजदूरों के घर वापसी के लिये प्रदेश सरकार से एक हजार बसों को चलाने की अनुमति मांगी गयी थी लेकिन सरकार द्वारा राजनैतिक द्वेष भावना के चलते बसों को चनाने की अनुमति नही दी गयी और प्रदेश अध्यक्ष अजय कुमार लल्लू को गिरफ्तार करने के साथ कार्यकर्ताओ पर भी मुकदमे दर्ज करा दिए गये। प्रदेश सरकार द्वारा कांग्रेस पार्टी के विरुद्ध अपनाई जा रही दमनकारी नीतियो से कांग्रेस के कार्यकर्ता डरने वाले नही है। प्रदेश अध्यक्ष अजय कुमार लल्लू की रिहाई के लिये उन्हें न्यायालय पर भरोसा है और उनकी रिहाई के लिये कानूनी लड़ाई लड़ी जा रही है। उन्होंने बताया कि लॉक डाउन के दौरान राष्ट्रीय महासचिव प्रियंका गांधी वाड्रा के निर्देश पर प्रदेश में कांग्रेस पार्टी द्वारा अब तक 90 लाख लोगों तक खाना व राशन पहुंचाया गया हैं। जबकि प्रदेश के 22 जिलों में सांझा रसोई के माध्यम से भूखे प्यासे लोगो को लंच पैकेटों का वितरण कराया गया है। उन्होंने भाजपा सरकार पर दमनकारी नीति अपनाए जाने व प्रदेश अध्यक्ष की रिहाई की न्यायिक प्रक्रिया में भी बाधा डालने का आरोप लगाया। वार्ता के पश्चात जिलाध्यक्ष अखिलेश पाण्डेय के नेतृत्व में कार्यकर्ताओं ने जिलाधिकारी के माध्यम से राष्ट्रपति को ज्ञापन भेजकर प्रदेश अध्यक्ष की बिना शर्त रिहाई व कार्यकर्ताओं पर दर्ज मुकदमे वापस लिए जाने की मांग किया। इस मौके पर शहर अध्यक्ष मोहसिन खान, महिला जिलाध्यक्ष हेमलता पटेल, पीसीसी सदस्य शिवकांत तिवारी, सुधाकर अवस्थी, सन्तोष कुमारी शुक्ला, अभिषेक त्रिपाठी, जफर अली, मनोज कुमार, उदित अवस्थी, शिखर शुक्ला आदि मौजूद रहे।

0Shares
Total Page Visits: 218 - Today Page Visits: 1

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *