आज़मगढ़ में साईबर अपराधी बेलगाम

आजमगढ़ जिले में बैंक प्रबंधन और पुलिस की लाख कोशिशों के बाद भी साइबर अपराधी लोगों के बैंकों से रूपया निकालने में कामयाब हो जा रहे है। ताजा मामला जीयनपुर नगर पंचायत का है जहां एक व्यक्ति ने  एटीएम कार्ड बंद करा दिया था बावजूद उसके खाते से 1 लाख 76 रूपये जालसाजों ने निकाल लिया।  जिससे परेशान जब वह बैंक प्रबंधन के पास पहुंचा तो उन्होने ऐसा नहीं हो सकता का अपना पुराना राग अलापा। इसी दौरान उक्त व्यक्ति के खाते से पुनः रूपया निकलने का मैसेज मिला तो बैंक प्रबंधन के होश उड़ गये। इस मामलें में पीडित ने कोतवाली में प्रार्थन पत्र देकर न्याय की गुहार लगाई है।
जीयनपुर नगर पंचायत के मुहल्ला कुरैश नगर के रहने वाले रिजवान मेंहदी का आरोप है कि उनका एटीएम कार्ड आठ जुलाई को गुम हो गया था। रिजवान ने इसी सूचना तत्काल बैंक प्रबंधन को दी। बैंक प्रबंधन ने एटीएम कार्ड को बंद कर दूसरा एटीएम कार्ड जारी कर दिया। जिसके बाद से ही जालसाजों ने अपना खेल शुरू कर दिया। कोड़ खाज बीएसएनएल के नेटवर्क ने किया। खराब मौसम के कारण विद्युत और संचार सेवाएं प्रभावित हो रही थी और रिजवान का रूपया बैंक से निकलता रहा। 22 जुलाई को जब रिजवान के मोबाइल पर एक लाख 76 हजार रूपये गायब होने का मैसेज आया तो उसके होश उड़ गये वह इलाहाबाद की बैंक शाखा में पहुंचा और इस बात की शिकायत की। आरोप है कि बैंक प्रबंधन ने मामले को टरकाने की कोशिश किया। लेकिन इसी दौरान मैनेजर के सामने की पुनः जालसाजो ने रूपया निकाल लिया। जबकि एटीएम के साथ रिजवान बैंक में मौजूद था। जिसके बाद प्रबंधन ने मामले को गंभीरता से लिया। रिजवान का आरोप है कि बैंक प्रबंधन की नाकामी की वजह से ही उनकी गाढ़ी कमाई को जालसाजो ने निकाल लिया। इस मामले में उन्होने जीयनुपर कोतवाली में प्रार्थना पत्र भी दिया है।
0Shares
Total Page Visits: 2627 - Today Page Visits: 2

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *