आशियाना ढहने से खुले आसमान के नीचे रहने को मजबूर

ढहे मकान का दृश्य।
फतेहपुर। पिछले कई दिन से रुक रुक कर हो रही बारिश के कारण गरीबों के आशियाने ढहने के हो रहे हादसे थमने का नाम नही ले रहे हैं। शनिवार की रात तेलियानी ब्लाक स्थित कसेरूआ ग्राम निवासी कमल कुमार अपनी 70 वर्षीय माता बुधनी देवी पत्नी सीमा देवी व पुत्री आकांक्षा 5 वर्ष व पुत्र आर्यन 2 वर्ष के साथ कमरे में सो रहा था। तेज बारिश के कारण अचानक पुराने व जर्जर भवन में कम्पन्न होने से किसी तरह अपने परिवार को बाहर निकाल पाया था कि अचानक मकान भरभरा कर गिर गया। मकान के गिरने से कमल कुमार की गृहस्थी मलबे में दब गयी। घर गिरने की आवाज सुनकर पहुंचे ग्रामीणों द्वारा किसी तरह मशक्कत से गृहस्थी की कुछ वस्तुएं निकाली जा सकी। वहीं आशियाना ढह जाने के कारण कमल व उसका परिवार खुले आसमान के नीचे जीवन जीने को मजबूर हो गया। उधर ग्राम प्रधान द्वारा सूचना देने पर तहसीलदार के निर्देश पर पहुंचे लेखपाल द्वारा प्रधानमंत्री आवास योजना के तहत लिखा पढ़ी कर शासन को रिपोर्ट भेजने की बात कही गयी।

0Shares
Total Page Visits: 562 - Today Page Visits: 1

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *