आम आदमी पार्टी ने राज्यपाल को भेजा ज्ञापन ..

फतेहपुर में आम आदमी पार्टी ने राज्यपाल को भेजा ज्ञापन
कानपुर बालिका संरक्षण गृह के कुकृत्यों की न्यायिक जांच कराये सरकार

फतेहपुर। कोविड-19 वैश्विक महामारी से जहां पूरा देश त्राहिमाम कर रहा है वहीं कानपुर के राजकीय बालिका संरक्षण गृह में हुए कुकृत्यों की खबर रोंगटे खड़े कर देने वाली है। संरक्षण गृह के कुकृत्यों की न्यायिक जांच कराये जाने के साथ ही अन्य मांगों को लेकर आम आदमी पार्टी के पदाधिकारियों ने उप जिलाधिकारी के माध्यम से प्रदेश के राज्यपाल को तीन सूत्रीय ज्ञापन भेजा।
आम आदमी पार्टी के जिला संयोजक श्रीराम पटेल की अगुवई में पदाधिकारी कलेक्ट्रेट पहुंचे और उप जिलाधिकारी के माध्यम से राज्यपाल को भेजे गये ज्ञापन में कहा गया कि कानपुर के बालिका संरक्षण गृह की सात बालिकाएं गर्भवती पायी गयी एवं एक बालिका को एचआईवी एड्स भी पाया गया। प्रशासन की लापरवाही और मिलीभगत के कारण बच्चियों को संरक्षित और सुरक्षित रखने के लिए स्थापित किये गये बालिका संरक्षण गृह वर्तमान समय में अनाथ बेसहारा व मजबूर बच्चियों की इज्जत के खिलवाड़ का अड्डा बन चुके हैं। कहा गया कि बालिका संरक्षण गृह की 57 लड़कियां कोरोना पाजिटिव भी मिली हैं। इससे स्पष्ट है कि बालगृह का संचालन करने वाले जिम्मेदार अधिकारियों एवं कर्मचारियों के लिए सरकार, संविधान, कानून नियमावली जिम्मेदारियां का कोई स्थान नही है। राज्यपाल के माध्यम से प्रदेश सरकार से मांग की गयी कि कानपुर बालिका संरक्षण गृह में हुए कुकृत्यों की न्यायिक जांच उच्च न्यायालय की निगरानी में गठित एसआईटी द्वारा करायी जाये, बालिका संरक्षण गृह काण्ड के दोषियों के विरूद्ध मुकदमा दर्ज करके कड़ा दण्ड दिलाया जाये, पीड़ित बच्चियों को बेहतर इलाज की व्यवस्था की जाये तथा उननके भविष्य को सुरक्षित एवं संरक्षित करने हेतु उचित मुआवजा दिया जाये। इस मौके पर मनोज सिंह, राम किशोर, सुशील कुमार शुक्ला, नीरज पटेल, राजकरन सिंह, रतीलाल, रमेश कुमार, राघवेन्द्र, कंधईलाल, सुशीला, शाहजहां, शशिकरण शुक्ला आदि मौजूद रहे।

0Shares
Total Page Visits: 247 - Today Page Visits: 2

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *