आखिर कौन सी थी मजबूरी की मां ने नवजात से तोड दिया ममत्व, कहीं नाजायज समबन्ध तो नहीं

कुशीनगर।मां दुनिया की कोई भी मां हो वो अपनी औलाद से सबसे ज्यादा प्रेम करती है लेकिन कुशीनगर में मां की ममता सवालों के घेरे में है मां का ममता का प्रेम को इस घटना ने शर्मसार कर दिया है ।इसे लेकर लोगों द्वारा तरह-तरह की अटकलें भी लगाई जा रही है। कहीं लोग इसे नाजायज औलाद तो कहीं बच्ची होने को लेकर ऐसा कदम उठाया जाने की चर्चा जोरों पर कर रहें है।बच्चों के लिए अपने आंचल में बेपनाह मोहब्बत समेटने वाली मां के दामन में दाग लग गया है।रामकोला नगर में रेलवे लाइन के किनारे नवजात बच्ची मिलने से मां की ममता दागदार हो गई है। रेलवे लाइन के किनारे बोरे पर पड़ी मासूम नवजात बच्ची को जिंदा देख पूरे इलाके के लोग पहुंच गए । भीड़ में से एक मां की ममता जागी और उसने इस लावारिस बच्ची को अपने आंचल की छांव दिया । बगल में ही रामकोला सीएचसी होने के कारण लोग मासूम नवजात को लेकर डॉक्टर के पास गए जहां उसकी जांच की गई । बच्ची की नाल भी कटी नहीं थी जिसे काटने के बाद उसका इलाज किया गया । बच्ची को जन्म के बाद लगने वाला टीका भी लगाया गया ।डाक्टरों के अनुसार बच्ची स्वस्थ है ।एक महिला ने बच्ची को अपने पास रखा है लेकिन लोग जन्म देने वाली मां पर सवाल खड़ा कर रहे हैं कि वह कैसी मां है जिसने जन्म देकर इसे लावारिश छोड़ दिया है ।

0Shares
Total Page Visits: 1597 - Today Page Visits: 1

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *