अयोध्या को तपोभूमि चित्रकूट रेलवे लाइन से जोड़ने की मांग

न्यायपूर्ण फैसले पर अभाहिम ने दी बधाई
 डीएम को ज्ञापन देते जाते हिन्दू महासभा के पदाधिकारी 
फतेहपुर। अखिल भारत हिन्दू महासभा के पदाधिकारियों ने उच्चतम न्यायालय द्वारा अयोध्या विवाद पर दिये गये न्यायपूर्ण फैसले पर जहां बधाई दी वहीं कलेक्ट्रेट पहुंचकर प्रधानमंत्री को सम्बोधित एक ज्ञापन जिलाधिकारी को सौंपकर श्रीराम जन्मभूमि अयोध्या को उनकी तपोभूमि चित्रकूट को रेलवे लाइन से जोड़ने की मांग की।
गुरूवार को अखिल भारत हिन्दू महासभा के प्रान्तीय महामंत्री मनोज त्रिवेदी की अगुवई में पदाधिकारी कलेक्ट्रेट पहुंचे और प्रधानमंत्री को सम्बोधित ज्ञापन जिलाधिकारी को सौंपकर कहा कि उच्चतम न्यायालय ने शताब्दियों से चले आ रहे विवाद पर अपने न्यायिक फैसले में विराम लगाकर भगवान श्रीराम को अपनी जन्मभूमि में स्थापित होने का निर्णय दिया है। जिसे पूरे भारत की जनता ने स्वागत किया है। इस क्रम को आगे बढ़ाते हुए मंदिर निर्माण और उसकी प्रस्तावित भव्यता को आकार दिया जा रहा है यह भी देश के लिए प्रसन्नता की बात है। प्रधानमंत्री से मांग किया कि भगवान श्रीराम की जन्मभूमि अयोध्या को उनकी तपोभूमि चित्रकूट को रेलवे लाइन से जोड़ा जाये। इससे चित्रकूट परिक्षेत्र तथा अयोध्या परिक्षेत्र की सामान्य जनता को एक जगह से दूसरी जगह आने जाने में जो कठिनाईयां पड़ती है उनका निराकरण तो होगा ही सुविधाआें के बढ़ने के साथ-साथ सरकार द्वारा लिया गया निर्णय इतिहास के स्वर्णिम अक्षरों से लिखा जायेगा। साथ ही भगवान श्रीराम की वनवास यात्रा और लंका विजय के बाद अयोध्या में चक्रवर्ती राज्याभिषेक के ऐतिहासिक पुर्नस्थापना का संदेश जनजन तक पहुंच जायेगा। इस मौके पर जिलाध्यक्ष राम गोपाल शुक्ला, डा0 प्रमोद कुमार पाण्डेय, शिव पूजन, शशिकांत मिश्र, माया देवी, शकुन्तला, रंजना सिंह, अतुल दीक्षित, संतोष नेता, गया प्रसाद, स्वामी राम आसरे आर्य, करन सिंह पटेल, बाबू तिवारी आदि मौजूद रहे।

0Shares
Total Page Visits: 582 - Today Page Visits: 1

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *