अभिभावक बच्चों पर निगाह रख गलत संगत से बचायें-पाण्डेय

जागरूकता कार्यक्रम को सम्बोधित करते निदेशक बीपी पाण्डेय
फतेहपुर। राज्य एड्स नियंत्रण सोसायटी लखनऊ के मार्गदर्शन में संस्था जन कल्याण महासमिति द्वारा संचालित लक्षित हस्तक्षेप परियोजना का संचालन जिले में कई वर्षों से किया जा रहा है। टी.आई. परियोजना द्वारा मलिनबस्ती पीरनपुर में ”सामुदायिक जागरूकता कार्यक्रम“ का आयोजन सारा पैलेस में किया गया। जिसकी अध्यक्षता क्षेत्रीय सभासद नूरूलहुदा द्वारा की गयी। कार्यक्रम में अध्यक्षता कर रहे सभासद नूरूलहुदा ने कहा कि संस्था द्वारा योजना के सम्बन्ध में जो जानकारी दी गयी यह समुदाय के लिये बहुत आवश्यक है। क्योंकि विना जानकारी के बहुत लोग बहकावे में आ जाते है। इसके लिये बताये गये उपाय को अपनाने की आवश्यकता है। उन्होनें संस्था जन कल्याण महा समिति व टी.आई परियोजना टीम को धन्यवाद दिया कि उनके क्षेत्र में जनमानस को टी.वी. के प्रति जागरूक करने का कार्य किया है।
परियोजना निदेशक/सचिव बीपी पाण्डेय द्वारा समुदाय को आगाह किया गया कि समाज में युवा पीढी नशे में अपना जीवन बर्बाद कर देती हैं। अभिभावकों की जिम्मेदारी व जवाबदेही है कि अपने बच्चों पर निगाह रखें और गलत संगत से बचायें। क्यों बच्चे धीरे-धीरे स्मैक, इंजेक्शन से नशा आदि करके चोरी आदि को अन्जाम देकर अपना भविष्य बर्बाद करते हैं। इससे अपने व युवा पीढी को बचायें। लक्षित हस्तक्षेप परियोजना के प्रोग्राम मैनेजर बुद्धप्रकाश मौर्य ने कार्यक्रम के बारे में विस्तार से जानकारी दी। कार्यक्रम में चाइल्ड लाइन 1098 के जिला समन्वयक अजयपाल सिंह चौहान ने बताया कि 0 से 18 वर्ष के बच्चों को बाल अधिकार एवं सुरक्षा सहित खोये पाये, शोषित, बालश्रम, उत्पीडन, घरेलू हिंसा, स्पांसरशिप सहित जानकारी देते हुए आगाह किया कि यदि उपरोक्त बच्चे आप किसी के जानकारी में आते हैं तो 1098 में फोन करके बच्चे का भविष्य सवांर सकते है। कार्यक्रम में टी.एस.यू. लखनऊ से प्रोग्राम अधिकारी आदित्य कुमार उपस्थित रहें। उन्होने उप्र राज्य एड्स नियंत्रण सोसाइटी लखनऊ के दिशा निर्देशों की जानकारी देते हुए उच्च जोखिम समूह के साथ अच्छा तालमेल बनाकर समय-समय पर सभी सेवायें लेने की अपील किया। साथ ही नये एच.आर.जी. जोडने की अपील किया। कार्यक्रम में परामर्शदाता ओपी तिवारी ने बताया कि सामान्य समुदाय में भी एच.आई.वी. का खतरा बढ रहा है जिसके कारण वहाँ जागरूकता कार्यक्रम के माध्यम से जागरूक करना जरूरी है। इस मौके पर कंचन, अमरदीप शुक्ला, शगुफ्ता वसीम, मानसिंह ओआरडब्लू ने भी सामुदायिक जागरूकता हेतु अपने विचार रखें। कार्यक्रम में बृजेश श्रीवास्तव, आशीष कुमार श्रीवास्तव, रामबाबू, मुकेश कुमार, मित्र शिक्षक कुसमा, अरूणा, सुशीला, सतेन्द्र, अजमेरी, राजकुमार आदि प्रमुख रूप से उपस्थित रहें।

0Shares
Total Page Visits: - Today Page Visits:

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *